Home » Latest » रिहाना और ग्रेटा थुनबर्ग ने भारत में किसानों के विरोध पर अंतर्राष्ट्रीय ध्यान आकर्षित किया
Chaudhary Rakesh Tikait

रिहाना और ग्रेटा थुनबर्ग ने भारत में किसानों के विरोध पर अंतर्राष्ट्रीय ध्यान आकर्षित किया

Rihanna and Greta Thunberg draw international attention to farmers’ protests in India

The ongoing protests of contentious agriculture laws to deregulate the farming sector gained some international momentum with Tweets from both Rihanna and climate activist Greta Thunberg.

दिल्ली, 03 फरवरी 2021. नए कृषि कानूनों के खिलाफ जारी किसान आंदोलन को लेकर अंतर्राष्ट्रीय हलचल बढ़ गई है। विवादास्पद कृषि कानूनों के चल रहे विरोध ने रिहाना और जलवायु कार्यकर्ता ग्रेटा थुनबर्ग दोनों के ट्वीट्स के साथ कुछ अंतर्राष्ट्रीय गति प्राप्त की है।

दिल्ली के आस-पास इंटरनेट सेवा पर रोक – शीर्षक से एक टीवी चैनल की खबर को ट्वीट करते हुए रिहाना ने अपने टाइमलाइन पर फार्मर्स प्रोटेस्ट हैशटैग के साथ लिखा कि हम इस बारे में बात क्यों नहीं कर रहे हैं?!

वहीं ग्रेटा थुनबर्ग ने ट्वीट किया –

हम भारत में #FarmersProtest के साथ एकजुटता में खड़े हैं।

पाठकों से अपील

“हस्तक्षेप” जन सुनवाई का मंच है जहां मेहनतकश अवाम की हर चीख दर्ज करनी है। जहां मानवाधिकार और नागरिक अधिकार के मुद्दे हैं तो प्रकृति, पर्यावरण, मौसम और जलवायु के मुद्दे भी हैं। ये यात्रा जारी रहे इसके लिए मदद करें। 9312873760 नंबर पर पेटीएम करें या नीचे दिए लिंक पर क्लिक करके ऑनलाइन भुगतान करें

 

हमारे बारे में उपाध्याय अमलेन्दु

Check Also

ऑल इंडिया पीपुल्स फ्रंट के राष्ट्रीय प्रवक्ता और अवकाशप्राप्त आईपीएस एस आर दारापुरी (National spokesperson of All India People’s Front and retired IPS SR Darapuri)

प्रयागराज का गोहरी दलित हत्याकांड दूसरा खैरलांजी- दारापुरी

दलितों पर अत्याचार की जड़ भूमि प्रश्न को हल करे सरकार- आईपीएफ लखनऊ 28 नवंबर, …

Leave a Reply