रसोई गैस के बढ़ते दाम चिंताजनक : भाकपा (माले)

रसोई गैस के बढ़ते दाम चिंताजनक : भाकपा (माले)

तेल कंपनियां हो रही मालामाल और जनता कंगाल

Rising price of LPG is worrying: CPI(ML)

लखनऊ, 8 मई। भाकपा (माले) ने पहले से ही महंगी रसोई गैस के मूल्य में 50 रु प्रति घरेलू सिलेंडर की ताजा वृद्धि की आलोचना की है। जिस रफ्तार से मूल्यवृद्धि हो रही है, वह चिंताजनक है। सरकार कीमतों पर नियंत्रण रखे और मूल्यवृद्धि वापस ले।

पार्टी के राज्य सचिव सुधाकर यादव ने शनिवार को एक बयान में कहा कि रूस-यूक्रेन युद्ध की आड़ लेकर जनता को लूटा जा रहा है। सरकारें टैक्स नहीं घटा रही हैं और सारा आर्थिक बोझ आम आदमी पर डाल रही हैं, जो महंगाई की मार से पहले से ही टूटा हुआ है। तेल कंपनियां मालामाल हो रही हैं और जनता कंगाल। जब भी संकट आता है, तो पूंजीपतियों की संपत्ति बढ़ जाती है। जैसे कोरोना काल में हुआ। प्रधानमंत्री तेल-गैस की कीमतों पर राज्य सरकारों को सलाह देते हैं, तो राज्य सरकारें केंद्र को जिम्मेदार बताती हैं। इस बीच बढ़ती महंगाई की चक्की में जनता पिसती है। यह खेल बंद हो और महंगाई पर लगाम लगे।

हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें. ट्विटर पर फॉलो करें. वाट्सएप पर संदेश पाएं. हस्तक्षेप की आर्थिक मदद करें

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.