आरएसएस-बीजेपी के लोगों ने लखनऊ में भड़काई थी हिंसा, पकड़कर पुलिस ने छोड़ा

आरएसएस-बीजेपी के लोगों ने लखनऊ में भड़काई थी हिंसा, पकड़कर पुलिस ने छोड़ा

RSS-BJP people incited violence in Lucknow, caught and left by police

नई दिल्ली, 10 जनवरी 2020. उत्तर प्रदेश पुलिस के पूर्व महानिरीक्षक एस. आर. दारापुरी ने आरोप लगाया है कि नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ प्रदर्शन (Demonstration against Citizenship Amendment Act (CAA)) प्रदर्शन के दौरान लखनऊ में आरएसएस-बीजेपी के लोगों ने हिंसा भड़काई थी।

श्री दारापुरी ने अपने फेसबुक पेज पर लिखा,

“आरएसएस और बीजेपी के लोगों ने लखनऊ में भड़काई थी हिंसा जो 19 तारीख को पकड़ कर हज़रतगंज थाने में लाये गये थे और बाद में छोड़ दिये गए।“

उनकी पोस्ट पर कमेन्ट में गिरीश चन्द्र शर्मा ने लिखा,

“कैसरबाग चौराहे से लाटूश रोड चौराहे तक संघ समर्थक आबादी के गुंडा तत्व पत्थर बरसा रहे थे, दुकानों में तोड़फोड़ कर रहे थे। 19, 12, की शाम 4- 5 बजे के बीच। पुलिस उन्हें देख कर कि वे तो मुस्लिम नहीं हैं चुपचाप लौट गयी।“

 

हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें. ट्विटर पर फॉलो करें. वाट्सएप पर संदेश पाएं. हस्तक्षेप की आर्थिक मदद करें

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.