Home » Latest » सिंधिया ने पीएम की नाक के नीचे ही सोशल डिस्टेंसिंग को धता बताई, नड्डा भी रहे साथ
Jaipur: Congress leader Congress leader Jyotiraditya Scindia addresses a press conference in Jaipur, on Dec 2, 2018. (Photo: Ravi Shankar Vyas/IANS)

सिंधिया ने पीएम की नाक के नीचे ही सोशल डिस्टेंसिंग को धता बताई, नड्डा भी रहे साथ

Scindia defies social distancing, Nadda also stays with

नई दिल्ली, 21 मार्च 2020. एक तरफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कोरोना वायरस से लड़ने के लिए देश के लोगों से सोशल डिस्टेंसिंग की अपील (Prime Minister Narendra Modi appeals to the people of the country for social distancing to fight the corona virus) कर रहे हैं, लेकिन हाल ही में भाजपाई हुए महाराज ने पीएम की नाक के नीचे ही पीएम के आव्हान का मजाक उड़ाते हुए सोशल डिस्टेंसिंग को धता बताई।

ज्योतिरादित्य सिंधिया कांग्रेस छोड़कर आए 22 पूर्व विधायकों के साथ आज भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात की और इसकी सूचना भी खुद ट्विटर पर सिंधिया ने ही दी।

उन्होंने ट्वीट किया

“मध्य प्रदेश के विकास प्रगति और उन्नति के अपने संकल्प के साथ कांग्रेस के सभी 22 पूर्व विधायक जो मेरे परिवार के सदस्य हैं, उन्होंने आज भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष, श्री जेपी नड्डा जी के निवास पर भाजपा की सदस्यता ग्रहण की।

@JPNadda

@BJP4India”

Jyotiraditya Scindia met BJP President JP Nadda

हमारे बारे में hastakshep

Check Also

पलाश विश्वास जन्म 18 मई 1958 एम ए अंग्रेजी साहित्य, डीएसबी कालेज नैनीताल, कुमाऊं विश्वविद्यालय दैनिक आवाज, प्रभात खबर, अमर उजाला, जागरण के बाद जनसत्ता में 1991 से 2016 तक सम्पादकीय में सेवारत रहने के उपरांत रिटायर होकर उत्तराखण्ड के उधमसिंह नगर में अपने गांव में बस गए और फिलहाल मासिक साहित्यिक पत्रिका प्रेरणा अंशु के कार्यकारी संपादक। उपन्यास अमेरिका से सावधान कहानी संग्रह- अंडे सेंते लोग, ईश्वर की गलती। सम्पादन- अनसुनी आवाज - मास्टर प्रताप सिंह चाहे तो परिचय में यह भी जोड़ सकते हैं- फीचर फिल्मों वसीयत और इमेजिनरी लाइन के लिए संवाद लेखन मणिपुर डायरी और लालगढ़ डायरी हिन्दी के अलावा अंग्रेजी औऱ बंगला में भी नियमित लेखन अंग्रेजी में विश्वभर के अखबारों में लेख प्रकाशित। 2003 से तीनों भाषाओं में ब्लॉग

नरभक्षियों के महाभोज का चरमोत्कर्ष है यह

पलाश विश्वास वरिष्ठ पत्रकार, सामाजिक कार्यकर्ता एवं आंदोलनकर्मी हैं। आजीवन संघर्षरत रहना और दुर्बलतम की …