शाहनवाज आलम की गिरफ्तारी लोकतंत्र के लिए शुभ नहीं, अपनी चौतरफा विफलताओं से योगी सरकार बेहद डरी हुई है – दारापुरी

शाहनवाज आलम की गिरफ्तारी लोकतंत्र के लिए शुभ नहीं, अपनी चौतरफा विफलताओं से योगी सरकार बेहद डरी हुई है – दारापुरी

Shahnawaz Alam’s arrest is not auspicious for democracy. Yogi government is very scared of its all-round failures – Darapuri

लखनऊ, 30 जून 2020:  आल इंडिया पीपुल्स फ्रंट ने उत्तर प्रदेश कांग्रेस अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के अध्यक्ष शाहनवाज़ आलम की गिरफ्तारी की कड़ी निंदा की है.

आइपीएफ के राष्ट्रीय प्रवक्ता व पूर्व आईजी एस. आर. दारापुरी ने जारी बयान में कहा कि अपनी चौतरफा विफलताओं से योगी सरकार बेहद डरी हुई है. उसके कथित माडल की कडवी सच्चाई रोज ब रोज जनता के सामने आ रही है. ये डरी सरकार बदले की भावना से सामाजिक एवं राजनीतिक कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारियां कर रही है, फर्जी मुकदमें कायम कर उन्हें जेल भेज रही है, कोरोना महामारी में भी अवैधानिक वसूली नोटिस भेज कर जुल्म किया जा रहा है, न्यायालय तक के आदेशों की अवहेलना कर आतंक फ़ैलाने पर आमादा हो गई है.

उन्होंने कहा कि राजनीतिक बदले की भावना से की जा रही योगी सरकार की उत्पीड़न की कार्रवाई लोकतंत्र के लिए शुभ नहीं है उसे इससे बचना चाहिए और संविधान के अनुरूप आचरण करना चाहिए. आल इंडिया पीपुल्स फ्रंट शाहनवाज़ को तत्काल रिहा करने की मांग करता है.

हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें. ट्विटर पर फॉलो करें. वाट्सएप पर संदेश पाएं. हस्तक्षेप की आर्थिक मदद करें

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner