मुजफ्फरनगर के खतौली में ज़रूरतमन्दों की मदद के लिए आगे आए सामाजिक लोग

Social people came forward to help the needy in Khatauli in Muzaffarnagar

खतौली, (मुज़फ्फरनगर) 19 मई 2020 : खतौली क्षेत्र में युवाओं का ग्रुप पीपुल्स एलायन्स और अन्य सामाजिक लोग कोविड-19 के कारण हुए लॉकडाउन के इस नाज़ुक वक्त में गरीब, मज़दूर और जरूरतमंदों को लगातार 50 दिनों से राहत, खाद्य सामग्री और अन्य आवश्यक वस्तुओं का वितरण करने का कार्य कर रहे हैं।

रमज़ान माह को देखते हुए रोज़दारों के लिए रमज़ान किट का भी वितरण (Ramadan Kit Delivery) किया जा रहा है।

Lockdown has become a matter of crisis for daily wage workers, street vendors and rickshaw drivers as well as middle-class families.

पीपुल्स एलायन्स ने अन्य सामाजिक लोगों को साथ में लेकर जागरूकता अभियान भी चलाया है, साथ ही जो लोग खतौली से बाहर फंसे हुए हैं उनके परिवार को भी मदद दी जा रही है। अनुरोध भी किया जा रहा है कि इस मुश्किल वक़्त में सब्र के साथ इस महामारी से लड़ने में देश कि मदद करें।

रविश आलम ने कहा कि लॉकडाउन दिहाडी मज़दूर, रेहड़ी व रिक्शा चालक के साथ-साथ मध्यम वर्गीय परिवारों के लिए भी संकट का विषय बन गया है। ऐसे में हम कुछ दोस्तों ने एक मुहीम शुरू की जिसके तहत अपने खर्चे से ज़रूरतमन्द लोगों तक बिना जाति-धर्म देखे मदद पहुंचाने का काम शुरू किया जो कि पिछले 50 दिनों से लगातार जारी है। हमारा मक़सद है कि हमारे शहर में कोई भूखा न सोए। सिर्फ़ इतना ही नहीं बल्कि पशु-पक्षियों के लिए भी लगातार दाने-खाने और पानी का इंतज़ाम किया जा रहा है। खतौली प्रशासन भी इस नेक काम में हमारी टीम की जितनी सम्भव हो मदद कर रहा है।

राहत सामग्री पहुंचाने वालों में मुख्य रूप से इंजीनियर उस्मान, डा वक़ील सागर, डा अथर, रविश आलम, अमित ग्रेड, प्रवेज़ गाज़ी, सभासद असजद सैफी, ऐन इरफान, गौरव मौघा, डाक्टर नईम, अमान मिर्ज़ा, अजय उपाध्याय, आस फातमी, मौ. अली, अनीस अन्सारी, क़ारी ज़िया, सलमान हसन, अदनान क़ाज़ी, कामरान आदिल लगे हुए हैं।

Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
उपाध्याय अमलेन्दु:
Related Post
Recent Posts
Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
Donations