कोरोना का कहर : गरीबों की देखभाल से केंद्र ने पल्ला झाड़ा, राज्यों पर डाली जिम्मेदारी

राज्य गरीबों की देखभाल करें : स्वास्थ्य मंत्रालय

State should take care of the poor: Ministry of Health

नई दिल्ली, 22 मार्च 2020. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय (Union Ministry of Health) ने कहा है कि राज्य सरकारें कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों से निपटने की दिशा में काम करें और गरीबों की देखभाल करने की व्यवस्था करें।

स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि राज्यों के साथ बैठक में केंद्र ने निर्देश दिया कि ‘देश के 75 जिलों में केवल आवश्यक सेवाओं की अनुमति दी जाए और सभी गैर-आवश्यक सेवाओं पर रोक लगाई जाए।’

उन्होंने कहा कि राज्य सरकारें स्थिति के आधार पर जिलों में इसकी समय सीमा बढ़ा सकती हैं।

उन्होंने कहा,

“कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए ये उपाय महत्वपूर्ण हैं।”

अग्रवाल ने कहा,

“राज्यों को गरीबों और कमजोर लोगों की देखभाल के लिए निर्देशित किया गया है।”

रविवार को राज्य के मुख्य सचिवों के साथ कैबिनेट सचिव और प्रधानमंत्री के मुख्य सचिव की बैठक हुई।

Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
उपाध्याय अमलेन्दु:
Related Post
Leave a Comment
Recent Posts
Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
Donations