योगीराज में अदालतों का स्थान राज्य प्रायोजित हिंसा ने ले लिया है – भाकपा

योगीराज में अदालतों का स्थान राज्य प्रायोजित हिंसा ने ले लिया है – भाकपा

State-sponsored violence has replaced courts in Yogi Raj – CPI

लखनऊ, 14 मई 2021 – शासन ड्रामेबाजी से नहीं नेक प्रयासों से चलता है। यूपी की कानून व्यवस्था इस बात का ठोस प्रमाण है।

ये तीखी प्रतिक्रिया उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था को लेकर भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के राज्य सचिव मंडल ने व्यक्त की।

एक प्रेस बयान में भाकपा राज्य सचिव मंडल ने कहा कि यूपी सरकार कोविड से तबाही रोकने में तो विफल है ही, कानून व्यवस्था भी ध्वस्त पड़ी है। चित्रकूट की जेल के भीतर प्रायोजित गैंगवार के चलते 3 लोगों की हत्या हो गयी। योगीराज में अदालतों का स्थान राज्य प्रायोजित हिंसा ने ले लिया है।

भाकपा ने आरोप लगाया कि जहरीली शराब से प्रदेश में सैकड़ों लोगों की मौत हो रही है। पंचायत चुनावों की रंजिश में आये दिन हत्यायें हो रही हैं। दुराचार की वारदातें और ऊपर से पुलिसिया लापरवाही पीड़ादायक है। दवाओं, इलाजी सामान और जरूरी सामान की काला बाजारी जारी है। अब किलेनुमा जेल के अन्दर गोलीबारी और हत्यायें सुशासन के दाबों की धज्जियां बिखेर दीं हैं।

शासन के नाम पर ड्रामेबाजी चल रही है और प्रदेश की जनता सबकुछ झेल रही है।

भाकपा ने इस सब पर कड़ा विरोध जताया है।

हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें. ट्विटर पर फॉलो करें. वाट्सएप पर संदेश पाएं. हस्तक्षेप की आर्थिक मदद करें

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner