COVID-19 : अमरीका में मतदान पर मार, “सुपर ट्यूजडे 3” प्राइमरी में बहुत कम हुआ मतदान

Donald Trump

Super Tuesday 3″ primaries have very low turnout

COVID-19 की चिंताओं के बीच डेमोक्रेट ने प्राइमरी का चुनाव किया

“सुपर ट्यूजडे 3” प्राइमरी में बहुत कम मतदान हुए और उम्मीद है कि सत्ताधारी पार्टी के उम्मीदवार जोए बाइडेन के पक्ष में जाएगा।

पीपल्स डिस्पैच 18 Mar 2020 : सार्वजनिक स्वास्थ्य एवं राज्य के अधिकारियों द्वारा चिंताओं को उठाने के बावजूद अमेरिका की डेमोक्रेटिक पार्टी मंगलवार 17 मार्च को प्राइमरी के लिए अपने तीसरे दौर के मतदान के साथ आगे बढ़ी।

अक्सर “सुपर ट्यूजडे 3” कहे जाने वाले प्राइमरी राउंड का मतदान डेलिगेट की अधिक संख्या वाले तीन राज्य एरिज़ोना, फ्लोरिडा और इलिनोइस में किया गया। 441 प्रतिनिधियों के साथ यह डेमोक्रेटिक पार्टी के लिए एक ही दिन में दूसरा सबसे बड़ा प्राइमरी राउंड था।

ये प्राइमरी ऐसे समय में हुआ था जब पब्लिक हेल्थ विशेषज्ञों ने संयुक्त राज्य अमेरिका में फैले COVID-19 के तीसरे चरण को लेकर चिंता जाहिर की है। इसके प्रसार का तीसरा चरण उस स्थिति को व्यक्त करता है जब संक्रमण एक- दूसरे में संचरण के स्तर से आगे बढ़ जाता है और समुदाय में निरंतर फैलने के बिंदु तक पहुंच जाता है।

ओहियो डेमोक्रेटिक पार्टी (Ohio Democratic Party) जिसे अन्य तीनों के साथ कल अपने प्राइमरी का आयोजन करना था उसने सभी प्राइमरी को स्थगित करने के लिए ओहियो राज्य सरकार के खिलाफ अदालत का दरवाजा खटखटाया है।

अंततः ओहायो राज्य की सर्वोच्च अदालत ने सभी प्राइमरी के लिए इन-पर्सन वोटिंग को स्थगित करने के राज्य सरकार के फैसले का समर्थन किया।

जॉर्जिया, केंटुकी और लुइसियाना में राज्य के अधिकारियों द्वारा इसी तरह के कदम उठाए गए थे।

COVID-19 के मामले के बीच प्राइमरी के होने का परिणाम यह था कि इस बार सबसे कम मतदान हुए हैं। हालांकि पूरी मतदान प्रक्रिया का विवरण अभी भी जारी नहीं किया गया है क्योंकि रिपोर्ट के अनुसार ज़्यादातर मतदाता अभी भी चुनावी क्षेत्र में हैं। रिपोर्टों के अनुसार स्थिति बेहद गंभीर है।

उदाहरण स्वरूप 2.5 मिलियन से अधिक डेमोक्रेट वाले इलिनोइस प्रांत के इस प्राइमरी में 4,00,000 से थोड़ी अधिक वोटों के मिलने की सूचना है। रिपोर्टों के अनुसार फ्लोरिडा में 2016 की प्राइमरी की तुलना में सबसे अधिक मतदान की सूचना मिली है, लेकिन यह उल्लेख नहीं किया कि तब योग्य मतदाताओं के बमुश्किल 28.5% ने डेमोक्रेटिक और रिपब्लिकन प्राइमरी में भाग लिया था।

जैसा कि तीन राज्यों से आए इस परिणाम में ऐसा लगता है कि कम मतदान ने डेमोक्रेटिक पार्टी के सत्ता समर्थित उम्मीदवार जोए बाइडेन को शानदार लाभ पहुंचाया है। जबकि सैंडर्स के प्रचार ने लोगों को प्रोत्साहित किया कि अगर वे मतदान करने जाते हैं तो अपने स्वास्थ्य और सुरक्षा का पूरा ख्याल रखें वहीं बाइडेल लोगों को प्रोत्साहित किया अगर वे स्वस्थ्य हैं तो मतदान करने ज़रुर जाएं।

साभार : पीपल्स डिस्पैच

पाठकों से अपील

“हस्तक्षेप” जन सुनवाई का मंच है जहां मेहनतकश अवाम की हर चीख दर्ज करनी है। जहां मानवाधिकार और नागरिक अधिकार के मुद्दे हैं तो प्रकृति, पर्यावरण, मौसम और जलवायु के मुद्दे भी हैं। ये यात्रा जारी रहे इसके लिए मदद करें। 9312873760 नंबर पर पेटीएम करें या नीचे दिए लिंक पर क्लिक करके ऑनलाइन भुगतान करें