Home » Tag Archives: अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस

Tag Archives: अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस

दुनिया, आधी दुनिया की

international womens day

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस : क्या महिलाओं की स्थिति में कोई गुणात्मक परिवर्तन आया? International Women’s Day: Has there been any qualitative change in the status of women? इस हफ्ते की शुरुआत अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस (International Women’s Day) से हुई। हर साल की तरह बहुत से संदेश आये, बहुत सी महिलाओं ने संदेश लिखे, प्रेरणा से ओतप्रोत, महिला शक्ति की महिमा …

Read More »

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस : स्त्री का सहज स्वभाव क्या है ?

international womens day

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर विशेष – Special on International Women’s Day in Hindi औरत का लक्ष्य क्या है ? औरत कहां मिलेगी ? औरत का लक्ष्य है स्वतंत्रताबोध औरतों के पक्ष में फेसबुक पर लिखते ही अनेक मित्र हैं जो यह कहने लगते हैं कि भाई साहब ! शैतान औरतों का भी ख्याल कीजिए। उन मर्दों का भी ख्याल कीजिए …

Read More »

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस : आंतरिक स्वच्छता को लेकर महिलाओं में जागरूकता फैलाना जरूरी

Women's Health

International Women’s Day: It is important to spread awareness among women about internal hygiene नई दिल्ली, 07 मार्च 2021. अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर भारतीय वैज्ञानिकों ने महिलाओं को संक्रमण से बचाने के लिए नई तकनीक (New technology to protect women from infection) विकसित की है। इसका कारण यह है कि कोरोना महामारी में सरकार लोगों से स्वच्छता पर विशेष ध्यान …

Read More »

स्त्रियों की सेहत, शरीर और सेक्सुअलिटी और इंटरनेट : एक लुप्त कड़ी

Women's Health

Women’s health, body and sexuality and the Internet: a missing link आ गया है महिला दिवस – पर महिलाएं हैं कहाँ? नई दिल्ली, 04 मार्च 2021. वर्ष 2020 ने दुनिया को डिजिटल की तरफ़ बढ़ते हुए देखा – काम के लिए, शिक्षा के लिए और मनोरंजन के लिए भी। व्यक्ति और संस्थाएं काम करने, सीखने-पढ़ने और संलग्न रहने के लिए …

Read More »

अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस : स्त्री मुक्ति की आग — शाहीन बाग !

MODI has given INDIA the honor of being called the country of most rapes in the world in its small rule!

International Women’s Day: The Fire of Women’s Liberation – Shaheen Bagh! स्त्री-पुरुष समानता, स्त्री की स्वतंत्रता और स्वच्छंदता, उसका निर्भय हो कर जीवन के हर क्षेत्र में आगे बढ़ना सभ्यता का एक मानदंड है जिसे हम दुनिया के सभी विकसित देशों में आज काफ़ी हद तक प्रत्यक्ष होता हुआ देख भी सकते हैं। यह एक हक़ीक़त है जो हमारे जैसे …

Read More »