आत्मनिर्भर भारत में बिजली निजीकरण का विरोध कर रहे बिजली कामगारों की गिरफ्तारी, वर्कर्स फ्रंट ने भर्त्सना की

India News in Hindi, इंडिया न्यूज़, Hindi News, हिंदी समाचार, India News in Hindi, Read Latest Hindi News, Breaking News, National Hindi News, हिंदी समाचार, National News In Hindi, Latest National Hindi News Today,todays state news in Hindi, international news in Hindi, all Hindi news, national news in Hindi live, Aaj Tak Hindi news, BBC Hindi, Hindi news paper, today's state news in Hindi, Bihar breaking news live, Rashtriya khabren,

बिजली संशोधन बिल-2020 और बिजली के निजीकरण की जारी प्रक्रिया के विरुद्ध आंदोलन कर रहे बिजली कामगारों और संयुक्त संघर्ष समिति के केंद्रीय पदाधिकारियों की लखनऊ में हुई गिरफ्तारी की वर्कर्स फ्रंट ने भर्त्सना की है।

काजल की कोठरी : छतीसगढ़ में कोयला खदानों की लिस्ट बदली, लेकिन स्थिति जस की तस

Coal

Kajal cell: List of coal mines changed in Chhattisgarh, but the situation remains the same नई दिल्ली, 18 सितंबर 2020.  कोयले का खनन (Coal mining) काजल की कोठरी में जाने से कम नहीं। कुछ ऐसी ही स्थिति छतीसगढ़ में हो रही है। दरअसल जैव विविधता और पर्यावरण संरक्षण के नाम पर सरकार ने वहां खनन

आत्मनिर्भरता के साथ जरूरी है आत्महत्याओं को रोकना

narendra modi flute

Preventing suicides is necessary with self-sufficiency कोरोना के कारण सबसे ज्यादा मार रोजगार पर पड़ी है। खास कर रोज कमाने खाने वालों पर। बात यहां तक आ पहुंची है कि समाधान, आत्महत्या में दिख रहा है। बेरोजगारी के ताजे आंकड़े (Fresh unemployment statistics) पर गौर करें तो स्थिति सुधरती नहीं दिख रही। जुलाई के सापेक्ष

गरीबों के गले का फंदा बनने वाला है मोदी का आत्मनिर्भरता का मंत्र : 480 से बढ़ कर 26 हजार हो जायेगी निजीकरण के बाद आईटीआई की फीस

Narendra Modi Addressing the nation from the Red Fort

गरीबों को प्राविधिक शिक्षा से वंचित करने का प्रयास है उत्तर प्रदेश में 40 आईटीआई का निजीकरण | Privatization of 40 ITIs in Uttar Pradesh is an attempt to deprive the poor of technical education गरीबों को प्राविधिक शिक्षा से बाहर कर उन्हें आज का एकलव्य बनाने का रास्ता उत्तर प्रदेश सरकार ने तैयार कर दिया है।

भारत बचाओ दिवस और गांधी जी 

Mahatma Gandhi

Save India Day and Gandhi 9 अगस्त 1942 को गांधी जी ने अंग्रेजों भारत छोड़ो का नारा (British Quit India Slogan) दिया था। इस बार इस तारीख को भारत बचाओ दिवस भी मनायेगा। जिसे किसान संगठनों के साथ दस सेंट्र्ल ट्रेड यूनियन आयोजित करेंगी। इसकी वजह देश के भीतर मौजूदा हालात को बताया जा रहा

हमारे जीवन, जीवनशैली और रोज़गार से कम-से-कम संसाधनों का दोहन हो

Medha Patkar

हमारे जीवन, जीवनशैली और रोज़गार से कम-से-कम संसाधनों का दोहन हो – सबके सतत विकास के लिए यह है ज़रूरी – मेधा पाटकर Exploit the least resources from our life, lifestyle and employment – It is necessary for the sustainable development of all – Medha Patkar नई दिल्ली, 25 जुलाई 2020. ग्रेटा थुनबर्ग से प्रेरित हो कर

तीन लाख से अधिक संक्रमण होने पर कांग्रेस के मोदी से पाँच सवाल

narendra modi flute

More than three lakh infections occurred, Congress five questions to Modi 21 दिन में कोरोना पर जीत हासिल करने की घोषणा का क्या हुआ? आत्मनिर्भर बनने के नाम पर देश को मोदी जी ने उसी के हाल में छोड़ दिया रायपुर/13 जून 2020। प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है

आत्मनिर्भर भारत में एलपीजी भी हुई आत्मनिर्भर, अच्छे दिनों में रसोई गैस सिलेंडर के दाम बढ़े

National News

आत्मनिर्भर भारत में महंगाई का झटका : रसोई गैस सिलेंडर के दाम बढ़े Inflation shock in self-sufficient India: LPG cylinder prices rise नई दिल्ली, 1 जून 2020.  देशव्यापी लॉकडाउन को अनलॉक करने के पहले चरण (First steps to unlock nationwide lockdown 5) का आरंभ होते ही सोमवार को देश के आम लोगों को महंगाई का

जानिए मन की बात में आज क्या कहा प्रधानमंत्री मोदी ने

Modi in Gamchha

मन की बात 2.0’ की 12वीं कड़ी में प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के सम्बोधन का मूल पाठ Text of Prime Minister Shri Narendra Modi’s address in 12th episode of Mann Ki Baat 2.0 मेरे प्यारे देशवासियों, नमस्कार। कोरोना के प्रभाव से हमारी ‘मन की बात’ भी अछूती नहीं रही है। जब मैंने पिछली बार आपसे

लॉकडाउन : आत्मनिर्भर भारत में मजदूरों की आत्मनिर्भरता

Migrants On The Road

लॉकडाउन में मजदूरों की आर्थिक स्थिति पर ग्राउंड रिपोर्ट | Ground report on the economic status of workers in lockdown Lockdown: Self-reliance of laborers in self-sufficient India दिल्ली, मुंबई, जैसे महानगरों में हर साल बिहार, उत्तर-प्रदेश, झारखंड, उड़ीसा, मध्य प्रदेश से लाखों की संख्या में प्रवासी मजदूर आत्मनिर्भर बनने के लिए आते है वे दिन-रात कमा