यूपीएसएसएफ लोकतांत्रिक आवाजों को कुचलने का औजार- रिहाई मंच

Rajeev Yadav

UPSSF tool to crush democratic voices – Rihai Manch रिहाई मंच ने उमर खालिद की गिरफ्तारी पर उठाया सवाल, तत्काल रिहाई की मांग जो पुलिसिया कार्रवाई पहले अवैध रूप से होती थी, अब उसे एसएसएफ के जरिए वैध कर दिया गया ये स्पेशल फोर्स की आड़ में कानून है जो संवैधानिक नागरिक अधिकारों का दमन

सरकार लॉक डाउन का गलत इस्तेमाल जेलों में ठूंसने की साजिश के तहत कर रही – रिहाई मंच

Rajeev Yadav

पत्रकारों-छात्र नेताओं पर कार्रवाई लोकतान्त्रिक आवाज़ों का दमन- रिहाई मंच Action on journalists and student leaders suppression of democratic voices – Rihai Manch लखनऊ 22 अप्रैल 2020। रिहाई मंच ने कश्मीरी पत्रकारों और दिल्ली के छात्र नेताओं पर मुकदमे को सत्ता द्वारा उत्पीड़न की कार्रवाई (Oppression action by power) बताया है. मंच ने पत्रकार मसरत