Home » Tag Archives: कश्मीर-समस्या

Tag Archives: कश्मीर-समस्या

370 की समाप्ति के दो साल : धरती के स्वर्ग को अच्छे दिन का इंतजार

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अनेक फैसले अचानक और बगैर पर्याप्त सलाह-मशविरे या लोगों को विश्वास में लिए बगैर लिए हैं। धारा 370 को हटाना भी उनमें से एक है। इसके पीछे उनका और उत्साह एवं राजनैतिक सोच का योगदान अधिक है जो चुनावी समीकरणों ओर ध्रुवीकरण की दिशा में निरंतर सोचता रहता है।  धारा 370 के हटने के दो वर्ष …

Read More »

कश्मीरियों को बार बार देशभक्ति का पाठ मत पढ़ाइये, जब मोदी से बोले युसूफ तारिगामी

कश्मीरियों ने भारत चुना था क्योंकि उनकी परम्परा साथ रहने की थी, धर्मनिरपेक्षता की थी। तारिगामी ने हुक्मरानों को सलाह दी कि कभीकभार इतिहास की किताबें भी पढ़ लिया करें।  कश्मीर, उसकी विरासत और संविधान को अपमानित करने वालो शर्म करो श्वेत पत्र जारी कर पिछले दो सालों का हिसाब देश को दो शैली स्मृति व्याख्यान में बोले युसूफ तारिगामी …

Read More »

नेहरू के कारण ही कश्मीर भारत का हिस्सा है – पीयूष बबेले

Pt. Jawahar Lal Nehru

Kashmir is a part of India because of Nehru – Piyush Babelle संघ-भाजपा को बताना चाहिए कि सावरकर को किस बहादुरी के लिए अंग्रेज़ पेंशन देते थे- प्रो रमेश दीक्षित राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के नेतृत्व में नेहरूवादी मूल्यों को स्थापित करेगी कांग्रेस – शाहनवाज़ आलम पण्डित जवाहर लाल नेहरू की पुण्यतिथि (Death anniversary of Pandit Jawaharlal Nehru) पर …

Read More »

सीएए/एनआरसी/एनपीआर विरोधी आंदोलन : आशा और संभावनाएं, मुसलमान न होते तो मोदी शायद ही भारत के प्रधानमंत्री होते और शाह गृहमंत्री.

Amit Shah Narendtra Modi

Anti-constitutional posture of Government is causing irreparable loss of Indian nation-state and national life. 1. कश्मीर-समस्या, मंदिर-मस्जिद विवाद, असम-समस्या (राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर) और नागरिकता संशोधन कानून पर सरकार के फैसलों की चार बातें स्पष्ट हैं : (1) फैसले साम्प्रदायिक ध्रुवीकरण की नीयत से प्रेरित हैं. (2) फैसलों में लोकतांत्रिक संस्थाओं और प्रक्रियाओं का इस्तेमाल भर किया गया है. (3) फैसलों …

Read More »