किसान की भूख और हमारी भूमिका

स्वामी सहजानंद सरस्वती, Swami Sahajanand Saraswati',

स्वामी सहजानंद सरस्वती के जन्मदिन पर विशेष- Special on Swami Sahajanand Saraswati’s birthday We have never critically reviewed the psychology of the farmer. मध्य वर्ग के लोग आमतौर पर किसानों के प्रति रौमैंटिक भाव से सोचते हैं अथवा अनालोचनात्मक ढंग से सोचते हुए किसान का महिमा मंडन करते रहते हैं। किसान के मनोविज्ञान की कभी