अजीब आत्ममुग्दता का दौर है… फाँसी भी चढ़ेंगे और अपनी शवयात्रा भी देखेंगे•••

Rupesh Kumar Singh Dineshpur

कोरोना काल में चर्चा ••• Discussion in the Corona era “क्रान्तिकारी की तरह फाँसी भी चढ़ना चाहते हैं और अपनी भव्य शवयात्रा भी देखना चाहते हैं, ऐसा कैसे संभव है???” सेलिब्रिटी बनने के लिए लालायित (Longing to be a celebrity) रहने वाले तथाकथित साहित्यकारों और फ़ेसबुकिया एक्टिविस्टों पर  प्रोफेसर भूपेश सिंह के जोरदार त़ंज ने आज