Home » Tag Archives: घरेलू हिंसा (page 2)

Tag Archives: घरेलू हिंसा

जनता का घर जलाकर अर्थव्यवस्था को मजबूत करना… क्या शराब पर ही भारतीय अर्थव्यवस्था टिकी हुई है ?

Rihai Manch appeals to Kerala's Chief Minister to send 86 laborers from Nizamabad, Azamgarh trapped in remote Mallapuram

Strengthening the economy by burning people’s houses … Is the Indian economy resting on alcohol? 43 दिन की पूर्णबन्दी के बाद रेड जोन से लेकर आरेंज और ग्रीन जोन पूरे भारत में शराब के ठेके का खोले गए। ठेके खुलते ही दिल्ली समेत सभी राज्यों में लॉकडाउन में सोशल डिस्टेंसिंग – Social distancing in lockdown (सामाजिक दूरी) की धज्जियां उड़ाती …

Read More »

अच्छे दिन : राशन और दवाएं नहीं हैं पर शराब है, अर्थव्यवस्था के बाद समाज को भी गर्त में धकेल देगी सरकार

Masihuddin sanjari

शराब बिक्री, राजस्व के साथ अपराध में वृद्धि भी लेकर आएगी- रिहाई मंच Increase in crime along with revenue will also bring liquor sales – Rihai Manch  समाज की सबसे छोटी इकाई ‘परिवार’ को झेलना पड़ेगा इसका दुष्प्रभाव, महिलाएं-बच्चे होंगे सबसे अधिक प्रभावित आज़मगढ़ 5 मई 2020। लॉक डाउन से उपजे हालात ने करोड़ों लोगों की रोजी-रोटी छीन ली है। …

Read More »

CAA : क्या घरेलू नीतियों में यूएन के मानदंडों का सम्मान किया जाना चाहिए?

डॉ. राम पुनियानी (Dr. Ram Puniyani) लेखक आईआईटी, मुंबई में पढ़ाते थे और सन्  2007 के नेशनल कम्यूनल हार्मोनी एवार्ड से सम्मानित हैं

CAA : Should United Nations Norms be respected in Domestic Policies? संयुक्त राष्ट्रसंघ मानवाधिकार उच्चायोग (यूएनएचसीआर) की उच्चायुक्त मिशेल बैशेलेट (UN High Commissioner, Michele Bachelet) ने उच्चतम न्यायालय में याचिका दायर कर नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) की संवैधानिकता (constitutionality of the Citizenship Amendment Act) को चुनौती दी है. मिशेल द्वारा सीएए के विरुद्ध इस कार्यवाही पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त करते …

Read More »

इन 33 फीसद अपराधी जनप्रतिनिधियों का एनकाउंटर कौन करेगा ?

Say no to Sexual Assault and Abuse Against Women.jpg

इन 33 फीसद अपराधी जनप्रतिनिधियों का एनकाउंटर कौन करेगा ? महिलाओं के साथ अपराधी करने वाले 33 फीसद जनप्रतिनिधियों का एनकाउंटर कौन करेगा ? Crimes with women mostly involved leaders from different parties. नई दिल्ली। देश की जिम्मेदार संस्थाओं में बैठे जो लोग हैदराबाद एनकाउंटर पर खुशी (Happiness at Hyderabad encounter) मना रहे हैं वे यह नहीं समझ पा रहे …

Read More »