Home » Tag Archives: चिपको आंदोलन

Tag Archives: चिपको आंदोलन

मेरा जन्मदिन कुलीन वर्ग के लिए एक दुर्घटना ही है

पलाश विश्वास जन्म 18 मई 1958 एम ए अंग्रेजी साहित्य, डीएसबी कालेज नैनीताल, कुमाऊं विश्वविद्यालय दैनिक आवाज, प्रभात खबर, अमर उजाला, जागरण के बाद जनसत्ता में 1991 से 2016 तक सम्पादकीय में सेवारत रहने के उपरांत रिटायर होकर उत्तराखण्ड के उधमसिंह नगर में अपने गांव में बस गए और फिलहाल मासिक साहित्यिक पत्रिका प्रेरणा अंशु के कार्यकारी संपादक। उपन्यास अमेरिका से सावधान कहानी संग्रह- अंडे सेंते लोग, ईश्वर की गलती। सम्पादन- अनसुनी आवाज - मास्टर प्रताप सिंह चाहे तो परिचय में यह भी जोड़ सकते हैं- फीचर फिल्मों वसीयत और इमेजिनरी लाइन के लिए संवाद लेखन मणिपुर डायरी और लालगढ़ डायरी हिन्दी के अलावा अंग्रेजी औऱ बंगला में भी नियमित लेखन अंग्रेजी में विश्वभर के अखबारों में लेख प्रकाशित। 2003 से तीनों भाषाओं में ब्लॉग

एक बड़े सच का सामना करना पड़ रहा है क्योंकि मार्टिन जान को मेरी याद तो है लेकिन पलाश विश्वास को वे पहचान नहीं पा रहे। दरअसल उत्तराखंड और झारखंड में लोग मुझे पलाश नाम से ही जानते रहे हैं, किसी विश्वास को वे नहीं जानते, क्योंकि राजकिशोर संपादित परिवर्तन में नियमित लिखने से पहले तक मैं पलाश नाम से …

Read More »

सुंदरलाल बहुगुणा 100 साल जिएं, देश की जनता पर्यावरण चेतना से लैस हो

sunderlal bahuguna

Sunderlal Bahuguna should live for 100 years, the people of the country should be equipped with environmental consciousness राजीव नयन बहुगुणा से जून महीने में अपने पिता पर लिखने को कहा है। चिपको सन्त सुंदरलाल बहुगुणा जीवन भर पर्यावरण जागरूकता के लिए काम करते रहे। पर्यावरण जागरूकता सबसे जरूरी काम है, जिसकी गैरमौजूदगी ही कोरोना महामारी, कोरोना राजनीति और कोरोना …

Read More »