अमेरिकी साम्राज्यवाद के इशारे पर तय हो रही है अब भारत की विदेश नीति, जेल के छ: महीने के अपने अनुभव को साझा किया रूपेश ने

freelance journalist Rupesh Kumar Singh

रांची, 13 दिसंबर 2019. जुझारू, निर्भीक व स्वतंत्र पत्रकार रूपेश कुमार सिंह (freelance journalist Rupesh Kumar Singh) को पिछले 4 जून 2019 को अपहरण के बाद 6 जून को गिरफ्तारी दिखाकर छ: महीने तक जेल में रखा गया। रूपेश कुमार सिंह का अपराध बस इतना ही था कि वे सरकार की जनविरोधी नीतियों का विरोध