बलि के बकरे और पवित्र गाय : कोविड काल में मीडिया, पुलिस और तबलीगी जमात

Dr. Ram Puniyani

Sacrificial Goats and Holy Cows: Media, Police and Tabligi Jamaat in the Covid Era सरकार द्वारा किए जा रहे तमाम प्रयासों के बावजूद देश में कोरोना का प्रकोप बढ़ता ही जा रहा है (Corona outbreak is increasing in the country). पूरे देश में इस रोग के प्रसार और उसके कारण लगाए गए प्रतिबंधों से एक

लॉकडाउन रणनीति की विफलता और आत्मनिर्भरता मिशन की मरीचिका और विफल मोदी

Modi in Gamchha

Failure of lockdown strategy and self-reliance illusions and Modi failed नरेंद्र मोदी की लॉकडाउन की घोषणा (Narendra Modi’s lockdown announcement) की संरचना से जो बात शुरू से ही स्पष्ट थी, उसे लॉकडाउन के अघोषित विसर्जन की शुरूआत तक पहुंचते-पहुंचते, बाकायदा एलान कर के ही बता दिया गया है। और यह बात है क्या है? संक्षेप

जमशेदपुर की किसी मस्जिद में कोई छापेमारी नहीं, मस्जिद कमेटी के लोगों ने सहयोग किया : एसएसपी

Anoop Birthare, SSP of Jamshedpur

जमशेदपुर पुलिस : हिंदपीढ़ी और मरकज़ से लौटे लोगों को चिन्हित कर भेजा गया आइसोलेशन में लॉकडाउन के कारण जमात के लोग मस्जिद से नहीं जा सके थे वापस। दो महीने पूर्व घर से निकले थे जमात के लोग। मरकज़ और हिंदपीढ़ी से लौटे 4 लोगों को मुसाबनी में आइसोलेशन पर भेजा गया। जमशेदपुर से