Home » Tag Archives: देशबन्धु

Tag Archives: देशबन्धु

देशबन्धु के समूह संपादक राजीव रंजन श्रीवास्तव को पितृ शोक

नयी दिल्ली 14 मई 2021. देशबन्धु समाचारपत्र के समूह संपादक राजीव रंजन श्रीवास्तव के पिता देवेन्द्र कुमार श्रीवास्तव का आज सुबह देहावसान हो गया। वे 72 वर्ष के थे। श्री श्रीवास्तव पिछले कुछ महीनों से हृदयरोग से पीड़ित थे। बिहार के पूर्णिया में स्थित अपने निवास में उन्होंने अंतिम सांसें लीं। उनका अंतिम संस्कार पूर्णिया में ही किया गया। देवेन्द्र …

Read More »

सत्यपाल मलिक का उलझाने वाला बयान : गवर्नर आपकी पॉलिटिक्स क्या है ?

Today's Deshbandhu editorial

देशबन्धु में संपादकीय आज | Editorial in Deshbandhu today मेघालय के राज्यपाल सत्यपाल मलिक (Meghalaya Governor Satyapal Malik) ने किसान आंदोलन पर केंद्र सरकार की राय के विरुद्ध बड़ा बयान देकर सियासत में नयी हलचल पैदा कर दी है। अपने गृह जनपद बागपत में रविवार को एक समारोह में किसानों के पक्ष में खुलकर बोलते हुए मलिक ने कहा कि …

Read More »

चोट ममता बनर्जी को भाजपा को दर्द क्यों?

Today's Deshbandhu editorial

जानिए ममता बनर्जी को चोट के राजनीतिक अर्थ क्या हैं जंग का कोई बड़ा मैदान तैयार हो गया है देशबन्धु में संपादकीय आज | Editorial in Deshbandhu today मौजूदा दौर की राजनीति में चुनाव (Elections in present-day politics) को अक्सर जंग का नाम दे दिया जाता है। चुनाव जीतने के लिए तैयारियां नहीं की जातीं, रणनीतियां बनाई जाती हैं। सत्ता …

Read More »

उपवास पर अन्नदाता और छप्पन भोग पर सरकार

Today's Deshbandhu editorial

देशबन्धु में संपादकीय आज | Today’s Deshbandhu editorial भारत विकास की कैसी राह पर चल पड़ा है, इसकी व्याख्या इस एक वाक्य से की जा सकती है कि देश का पेट भरने वाले अन्नदाता किसान सोमवार को एक दिन के उपवास पर रहे। 2014 में सत्ता संभालने से पहले जब यूपीए सरकार की नीतियों (UPA Government Policies) को महापाप की …

Read More »

जानिए एक विनाशकारी खरपतवार गाजर घास के बारे में

Things you should know

A Destructive Weed Carrot Grass in Hindi खेतों के आसपास उगी गाजर घास (Santa Maria feverfew) न केवल मनुष्य को नुकसान पहुंचाती है, बल्कि दूसरी फसलों को भी नुकसान पहुंचाती है। गाजर घास का वैज्ञानिक नाम (Scientific name of carrot grass : Parthenium hysterophorus) पार्थेनियम हिस्टेरोफोरस है। पार्थेनियम हिस्टेरोफोरस, एस्टेरिया परिवार में एस्टर परिवार में फूलों के पौधे की एक …

Read More »

एक अनोखे किस्म का अक्खड़पन है कांग्रेस जिलाध्यक्ष के बेटे शरद यादव में

Sharad Yadav

देशबन्धु : चौथा खंभा बनने से इंकार- 12 Sharad Yadav introduced the moral courage he showed at the beginning of his parliamentary life, he is still following सन् 1971 में पांचवी लोकसभा के लिए चुनाव संपन्न हुए। सामान्य तौर पर पांच साल बाद अर्थात 1976 में नए चुनाव होते। इस बीच आपातकाल लग चुका था और इंदिरा गांधी ने एकतरफा …

Read More »

चरित्र हनन, समाज में वैमनस्य व कटुता उत्पन्न करना ट्रोल आर्मी का प्रारंभिक “युगधर्म” है

Lalit Surjan ललित सुरजन देशबंधु पत्र समूह के प्रधान संपादक हैं. वे 1961 से एक पत्रकार के रूप में कार्यरत हैं. वे एक जाने माने कवि व लेखक हैं. ललित सुरजन स्वयं को एक सामाजिक कार्यकर्ता मानते हैं तथा साहित्य, शिक्षा, पर्यावरण, सांप्रदायिक सद्भाव व विश्व शांति से सम्बंधित विविध कार्यों में उनकी गहरी संलग्नता है. यह आलेख देशबन्धु से साभार लिया गया

देशबन्धु : चौथा खंभा बनने से इनकार अखबार अथवा प्रेस और सत्तातंत्र के जटिल संबंधों (Complex relations of press and power) को समझने की मेरी शुरुआत 1961 में हुई, जब मैं हायर सेकंडरी की परीक्षा देकर ग्वालियर से लौटा और जबलपुर में कॉलेज के प्रथम वर्ष में प्रवेश लेने के साथ-साथ बाबूजी के संचालन-संपादन में प्रकाशित नई दुनिया, जबलपुर (बाद …

Read More »

देशबन्धु को अपनी स्वतंत्र नीति, सिद्धांतपरकता, निर्भीकता और राजाश्रय या सेठाश्रय के बिना कितनी मुश्किलों से गुजरना पड़ा है

Lalit Surjan ललित सुरजन देशबंधु पत्र समूह के प्रधान संपादक हैं. वे 1961 से एक पत्रकार के रूप में कार्यरत हैं. वे एक जाने माने कवि व लेखक हैं. ललित सुरजन स्वयं को एक सामाजिक कार्यकर्ता मानते हैं तथा साहित्य, शिक्षा, पर्यावरण, सांप्रदायिक सद्भाव व विश्व शांति से सम्बंधित विविध कार्यों में उनकी गहरी संलग्नता है. यह आलेख देशबन्धु से साभार लिया गया

देशबन्धु के साठ साल Sixty years of Deshbandhu दृश्य-1 मि.मजूमदार! आई हैव डन माई इनिंग्ज़ मोर ऑर लैस. बट गॉड विलिंग, यू हैव अ लॉंग वे टू गो. आफ्टर ऑल, यू एंड ललित आर ऑफ सेम एज. (श्री मजूमदार! मैं अपनी पारियां लगभग खेल चुका हूं। लेकिन प्रभु कृपा से आपको लंबा सफर तय करना है। आखिरकार, आप और ललित हमउम्र …

Read More »