Home » Tag Archives: द्विराष्ट्र का सिद्धांत

Tag Archives: द्विराष्ट्र का सिद्धांत

क्या आपने ‘माँ भारती के अमर सपूत’ सावरकर के माफीनामा पत्र पढ़े ?

savarkar

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वीडी सावरकर की जयंती पर ट्वीट कर इन शब्दों में सावरकर को श्रद्धांजलि दी, “माँ भारती के अमर सपूत, प्रखर राष्ट्रवादी नेता, महान क्रांतिकारी, ओजस्वी वक्ता, स्वातंत्र्यवीर विनायक दामोदर सावरकर जी को उनकी जयंती पर कोटिशः नमन।” इस अवसर पर अचानक द्विराष्ट्र सिद्धांत के प्रवर्तक विनायक दामोदर सावरकर के माफीनामे सर्च किए जाने …

Read More »

आंदोलनजीवी मोदीजी और इतिहास में दुष्प्रचार व झूठ का तड़का

Narendra Modi Addressing the nation from the Red Fort

Andolanjivi Modiji & Propagation of propaganda and lies in history इतिहास के साथ दुष्प्रचार और गलतबयानी एक आम बात रही है। सत्तारूढ़ शासक अक्सर अपने विकृत और विद्रूप अतीत को छुपाना चाहते है और अपने बेहतर चेहरे को जनता के सामने लाना चाहते है। इतिहास में वे बेहतर शासक और व्यक्ति के रूप मे याद किये जाएं, यह सबकी दिली …

Read More »

बैरिस्टर जिन्ना और बैरिस्टर सावरकर के द्विराष्ट्र के सिद्धांतों का फेल होना ही बांग्लादेश का निर्माण होना है

sheikh mujibur rahman

बांग्लादेश के पचास साल | Fifty years of Bangladesh बंगला देश की स्वतंत्रता के अर्धशताब्दी के बहाने | Half-century for Bangladesh’s independence. बैरिस्टर जिन्ना और बैरिस्टर सावरकर के द्विराष्ट्र के सिद्धांतों का फेल होना यही बांग्लादेश का निर्माण होना है। आज इस ऐतिहासिक घटना की पचासवी वर्षगांठ का दिन है। 1917 को अंडमान की जेल से ही सावरकर ने अपनी …

Read More »