Home » Tag Archives: पाकिस्तान

Tag Archives: पाकिस्तान

हम ने किस बेशर्मी से सरहदी गाँधी की क़ुर्बानियों और विरासत को भुला दिया!

खान अब्दुल गफ्फार खां, Frontier Gandhi Khan Abdul Ghaffar Khan,

सरहदी गाँधी ने देश-विभाजन से पहले और बाद में दो-क़ौमी नज़रिए को नहीं माना ख़ान अब्दुल ग़फ़्फ़ार ख़ान की 131वीं जयंती पर On the 131st birth anniversary of Khan Abdul Ghaffar Khan फ़रवरी 6 ख़ान अब्दुल ग़फ़्फ़ार ख़ान, जिन्हें सरहदी गाँधी और बादशाह ख़ान के नाम से भी याद किया जाता है, की 131वीं जयंती थी। वे भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन …

Read More »

गणतंत्र दिवस, संप्रभुता और युवा

डॉ. प्रेम सिंह, Dr. Prem Singh Dept. of Hindi University of Delhi Delhi - 110007 (INDIA) Former Fellow Indian Institute of Advanced Study, Shimla India Former Visiting Professor Center of Oriental Studies Vilnius University Lithuania Former Visiting Professor Center of Eastern Languages and Cultures Dept. of Indology Sofia University Sofia Bulgaria

Republic Day, Sovereignty and Youth (यह टिप्पणी 68वें गणतंत्र दिवस – 26 जनवरी 2017 – की है।) 26 जनवरी 1950 को भारत का संविधान लागू होता है और हम दुनिया के मंच पर एक संप्रभु गणतंत्र के रूप में प्रवेश करते हैं। तब से हर 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस मनाया जाता है, जो हमारी संप्रभुता का उत्सव है। गणतंत्र …

Read More »

क्या मोदीजी सच बोलते हैं कि नेहरू ने सुभाष, पटेल एवं अंबेडकर का अपमान किया था?

Pt. Jawahar Lal Nehru

Does Modiji tell the truth that Nehru insulted Subhash, Patel and Ambedkar? प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को पंडित जवाहरलाल नेहरू की आलोचना करने में आत्मिक सुख मिलता है। उनका बस चले तो वे जवाहरलाल नेहरू का नाम हमारे देश के इतिहास से पूर्णत: विलोपित कर दें। पिछले दिनों उन्होंने न सिर्फ नेहरू अपितु संपूर्ण नेहरू-गांधी परिवार पर हमला किया। उन्होंने आरोप …

Read More »

शादी की संस्था औरतों और मर्दों दोनों के ख़िलाफ़ है, लेकिन औरत को ज्यादा भुगतना पड़ता है, इस घर में तो कुत्ता भी मर्द है : किश्वर नाहीद

Shamsul Islam's conversation with Kishwar Naheed in Hindi.

भारतीय उपमहाद्वीप का प्रगतिशील बुद्धिजीवी बहुत बेईमान है किश्वर नाहीद से शम्सुल इस्लाम की बात-चीत Shamsul Islam‘s conversation with Kishwar Naheed in Hindi. [किश्वर नाहीद पाकिस्तान ही नहीं, भारतीय उपमहाद्वीप की एक प्रसिद्ध एक्टिविस्ट लेखक, कवि, नाटककार, आलोचक हैं। किश्वर नाहीद का परिवार मूल रूप से बुलंदशहर (दिल्ली से लगभग 100 किलोमीटर) का रहने वाला था और 1949 में पाकिस्तान …

Read More »

देशभक्ति, धर्म और संघी सोच : डॉ. राम पुनियानी का लेख

Dr. Ram Puniyani - राम पुनियानी

Dr Ram Puniyani‘s article in Hindi: Patriotism, Religion and Sanghi thinking पिछले कुछ वर्षों से ‘देशद्रोही‘ शब्द का काफी इस्तेमाल हो रहा है. देशद्रोही की परिभाषा (Definition of traitor in Hindi) बहुत स्पष्ट और सीधी-साधी है. जो भी आरएसएस या उसके कुनबे का आलोचक है, वह देशद्रोही है. आरएसएस हिन्दू राष्ट्रवाद की विचारधारा का स्रोत है और जैसे-जैसे वह ताकतवर …

Read More »

मुद्दा : क्या खोए फौजी का भी कोई मानवाधिकार है?

Opinion, Mudda, Apki ray, आपकी राय, मुद्दा, विचार

Issue: Do lost soldiers also have human rights? जब हम अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार दिवस (International Human Rights Day) का जश्न मना रहे हैं, यह पूछना लाजिमी है कि देश के किसी खोए फौजी का भी कोई अधिकार है, जिसे हम धड़ल्ले से कह सकें। यह सवाल उस देश में शर्मिंदगी का सबब हो सकता है, जो अपने फौजियों की जिंदगी और …

Read More »

जन आंदोलनों को धर्म के चश्मे से देखना आत्मघाती और राष्ट्रघाती… जब आप जैसी जनता होगी तो कोई भी शासक, तानाशाह बन ही जायेगा

Farmers Protest

Seeing mass movements through the prism of religion is suicidal अब एक नया तर्क गढ़ा जा रहा है कि इन किसानों को भड़काया जा रहा है। यह भड़काने का काम कांग्रेस कर रही है। कांग्रेस एक विपक्षी दल है और इन कृषि कानूनों को चूंकि सरकार जो भाजपा की है, पारित किया है, तो यह इल्ज़ाम आसानी से कांग्रेस के …

Read More »

पाकिस्तान : महिला पत्रकार की रहस्यमय मौत पर मानवाधिकार समूहों ने न्याय की मांग की

Shaheena Shaheen Baloch

शहीना बलोची पत्रिका रज़गहर (सहेली) की संपादक थीं और पाकिस्तान टेलीविज़न नेटवर्क के बोलन क्षेत्र में एंकर थीं। Pakistan: Human rights groups demanded justice over the mysterious death of a female journalist. Shaheena Balochi was the editor of the magazine Razgahar (Saheli) and was an anchor in the Bolan region of Pakistan Television Network. 7 सितंबर को पाकिस्तान के मानवाधिकार …

Read More »

कोविड-19 के दौर में भी बढ़ता रक्षा बजट !

World news

Defense budget increases even in COVID-19 era! हाल में ही स्टॉकहोम स्थित इंटरनेशनल पीस रिसर्च इंस्टीट्यूट (International Peace Research Institute) द्वारा प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार दुनिया में देशों द्वारा सेना के ऊपर किया जाने वाला खर्च बढ़ता जा रहा है. वर्ष 2019 में सेना के बजट में जो वृद्धि हुई है, वह वर्ष 2010 के पूरे दशक में सर्वाधिक है. …

Read More »