पूछता है भारत – रिया को जमानत मिलने की खबर पिछले पृष्ठों पर कम जगह में क्यों छपी ?

TRP ke liye murgon ki ladai

आगामी बिहार विधानसभा के चुनावों को देखते हुए, भाजपा ने सुशांत सिंह के मामले को ‘आपदा में अवसर’ की तरह लपका व बिहार को छोड़ कर आये उस कलाकार को, बिहार का सपूत और शहीद बनाना चाहा जिसने बिहार के नाम पर ना तो शिव सेना की ज्याद्तियों का विरोध किया ना लाकडाउन में प्रवासी मजदूरों की वापिसी में मदद की

पूछता है भारत : क्या भाजपा के रामराज्य में यौन हिंसा एक तरह का यज्ञ है जिसमें स्त्री को आहुति देनी ही पड़ेगी

HATHRAS हाथरस गैंगरेप : व्यवस्था और मानवता का अंतिम संस्कार

रामराज्य में एक ऐसी मानसिकता पैदा हो रही है जिसमें यौन हिंसा एक तरह का यज्ञ है जिसमें मर्दवादी ताकतों को मजबूत करने के लिए स्त्री को आहुति देनी ही पड़ेगी। इन्द्र की हवस का खामियाजा अहिल्या को पत्थर बन कर चुकाना ही पड़ेगा।

पूछता है भारत : क्या आप अपनी संतान को गोडसे बनाना चाहेंगे ?

It is necessary to bring back the lost politics

संघ को रोल मॉडल की तलाश है। वह भगत सिंह, सरदार पटेल से लेकर सुभाष बाबू तक एक अदद रोल मॉडल की तलाश में भटक रहे हैं। वे अपने रोल मॉडल के खोखलेपन से भी परिचित हैं और भारतीय समाज की उनके प्रति अस्वीकार्यता का भी उन्हें पर्याप्त ज्ञान है।

पूछता है भारत – ऐसी फजां में दम नहीं घुटता ?? मगर वो है कि कुर्सी से नहीं उठता

Poochhata hai Bharat

…………बुझा दो ……… इन रेप की मोमबत्तियों से कुर्सियाँ नहीं जलतीं, मोम के आंसुओं से सरकारें नहीं पिघलतीं, ख़बर फिर से वहीं उठाईगीरों ने सर उठाकर चलने वाली को दुनिया से उठा दिया लोग कोसने लगे सत्ता को किसे कुर्सी पर बिठा दिया दुख किसको कितना हुआ है, सब दिखाने में लग गये। तमाम सोये