Home » Tag Archives: भगत सिंह

Tag Archives: भगत सिंह

भगवतीचरण वोहरा : भगत सिंह के साथी, जिन्हें भुला दिया गया

bhagwati charan vohra

Biography of Bhagwati Charan Vohra in Hindi स्वतंत्रता सेनानी और क्रांतिकारी भगवतीचरण वोहरा के शहादत दिवस पर (On the martyrdom day of freedom fighter and revolutionary Bhagwati Charan Vohra) भगत सिंह के महत्वपूर्ण साथी भगवतीचरण वोहरा का जन्म 4 नवंबर, 1903 को लाहौर में हुआ था, जो अब पाकिस्तान में है। वे एक गुजराती ब्राह्मण थे। उनके पिता पंडित शिवचरण …

Read More »

शहीद भगत सिंह के साथी देशभक्त क्रांतिकारी सुखदेव थापर

Shaheed Sukhdev in Hindi

Sukhdev Biography in Hindi | क्रांतिवीर सुखदेव का जीवन परिचय क्रांतिवीर सुखदेव का जन्मदिन 15 मई के सुअवसर पर (On the occasion of Krantiveer Sukhdev’s birthday 15th May) शहीद सुखदेव का जन्म कहाँ हुआ? स्वतंत्रता संग्राम के समय उत्तर भारत में क्रान्तिकारियों की दो त्रिमूर्तियाँ बहुत प्रसिद्ध हुईं थीं। पहली चन्द्रशेखर आजाद, रामप्रसाद बिस्मिल तथा अशफाक उल्ला खाँ की थी, …

Read More »

भगत सिंह के विचारों के साथ लड़ें सांप्रदायिकता और साम्राज्यवाद से

seminar on martyrdom day of bhagat singh

भगत सिंह के शहादत दिवस पर विचार गोष्ठी आयोजित (Seminar on Martyrdom Day of Bhagat Singh) इंदौर 25 मार्च 2022, (विवेक मेहता)। “हम युद्ध के समर्थक हरगिज नहीं हैं लेकिन हम चाहते हैं कि एक ऐसा राज्य बने जिसमें सबको समान अधिकार हासिल हो। कोई किसी के हिस्से का हक न छीनें। ऐसा समाजवादी राज्य हम चाहते हैं।” यह बात …

Read More »

नेताजी की प्रतिमा को हिटलर की छवि में बदल रहा है कॉरपोरेट फासीवाद

netaji's statue

क्या एक सैन्य राष्ट्र के निर्माण के लिए नेताजी की छवि का इस्तेमाल हो रहा है? कॉरपोरेट फासीवाद (corporate fascism) नेताजी की प्रतिमा (Netaji’s statue) को हिटलर की छवि (picture of Hitler) में बदल रहा है जो नेताजी और आज़ाद हिन्द फौज का अपमान (Netaji and Azad Hind Fauj insulted) तो है ही, इतिहास के भगवाकरण के साथ-साथ अक्षम्य देशद्रोह …

Read More »

पंडित नेहरू, सुभाषचन्द्र बोस साधु वासवानी के सम्बन्ध में भगत सिंह के विचार

यह आलेख कीर्ति पत्रिका में ‘नए नेताओं के अलग-अलग विचार’ शीर्षक से जुलाई 1928 में छपा था। भगत सिंह का यह लेख कई भ्रांतियों को दूर करता है। Thoughts of Bhagat Singh regarding Pandit Nehru, Subhash Chandra Bose Sadhu Vaswani {शहीद-ए-आज़म सरदार भगत सिंह (1907-1931), जब केवल तेईस साल के थे, तब ब्रिटिश सरकार ने उन्हें फाँसी दे दी थी। …

Read More »

आंदोलनजीवी मोदीजी और इतिहास में दुष्प्रचार व झूठ का तड़का

Narendra Modi Addressing the nation from the Red Fort

Andolanjivi Modiji & Propagation of propaganda and lies in history इतिहास के साथ दुष्प्रचार और गलतबयानी एक आम बात रही है। सत्तारूढ़ शासक अक्सर अपने विकृत और विद्रूप अतीत को छुपाना चाहते है और अपने बेहतर चेहरे को जनता के सामने लाना चाहते है। इतिहास में वे बेहतर शासक और व्यक्ति के रूप मे याद किये जाएं, यह सबकी दिली …

Read More »

फिर से भगत सिंह

Bhagat Singh

खून से सनी सड़कों पर धूल जम गई है, धूल क्या उस पर बहुत सी नई परत चढ़ गई हैं। तब उनके खून से सींचे पेड़ों पर आज मीठे फ़ल लदे हैं, उन फलों की टोकरियाँ चंद मज़बूत पकड़ वालों की मुट्ठी में हैं। कल दरख़्त उखड़ कर इन्हीं सड़कों पर गिरेंगे, पत्ते सूख जाएंगे, बबूल उगेंगे, सड़क उखड़ने लगेगी …

Read More »

मृत भगत सिंह जीवित भगत सिंह से ज्यादा खतरनाक’ साबित हुए

Bhagat Singh

भगत सिंह ने जो कहा… भगत सिंह को भारत के सभी विचारों वाले लोग बहुत श्रद्धा और सम्मान से याद करते हैं। वे उन्हें देश पर कुर्बान होने वाले एक जज़बाती हीरो और उनके बलिदान को याद करके उनके आगे विनत होते हैं। वे उन्हें देवत्व प्रदान कर तुष्ट हो जाते हैं और अपने कर्तव्य की इतिश्री मान लेते हैं। …

Read More »

भगत सिंह और आज का भारत

Bhagat Singh

Bhagat Singh and today’s India मानवाधिकार कार्यकर्ताओं एवं पत्रकारों को रिहा करने के लिए जनांदोलन छेड़ने की जरूरत मंदसौर (मध्य प्रदेश) 25 नवम्बर 2020. अंग्रेजी शासन के दौरान देश में संभावित विद्रोह को दबाने के लिए शासकों ने रोलेट एक्ट जैसा दमनकारी कानून लागू करना तय किया था। जलियांवाला बाग हत्याकांड ने भगत सिंह को देश की आजादी हेतु संघर्ष …

Read More »

फैज़, भगत सिंह को हीरो मानते थे और उनकी तरह बनने की आरज़ू रखते थे

Bhagat Singh

शहीद-ए-आज़म भगत सिंह और दक्षिण एशियाई राजनीतिक परिप्रेक्ष्य Shaheed-e-Azam Bhagat Singh and South Asian Political Perspective साल 2020 में जब पूरी दुनिया कोरोना महामारी के कारण अनेकों मुश्किलों का सामना कर रही है। भारत-वर्ष, जो पहले ही सरकार द्वारा बनायी गलत नीतियों (Wrong policies made by the government) के कारण आर्थिक मंदी, साम्पदायिक-हिंसा, पूंजीवाद और भयंकर बेरोज़गारी की मार झेल …

Read More »

“भगत सिंह की विरासत का दावेदार है वामपंथ“–प्रोफ़ेसर चमन लाल

Process of Bhagat Singh becoming Bhagat Singh

“The Left is the claimant of Bhagat Singh’s legacy” – Professor Chaman Lal “देश-दुनिया की ऐतिहासिक और वैज्ञानिक समझ ने बनाया था भगतसिंह को भगत सिंह  – विनीत तिवारी  “भगत सिंह को सब अपनाना चाहते हैं लेकिन भगत सिंह की वैचारिक विरासत का संवाहक एवं दावेदार वामपंथ है। भगत सिंह मसीहा नहीं थे और ना ही मसीहाई में विश्वास रखते थे। भगत सिंह में वर्गीय समझ …

Read More »

जी मोदीजी ! पं. नेहरू भगत सिंह और साथियों से मिलने लाहौर जेल गये थे, आप भी पढ़ लें

Bhagat Singh

भगत सिंह और साथियों से मिलने नेहरू, लाहौर जेल गये थे. जी हाँ, जेल में भगत सिंह से मिले थे नेहरू 2018 में, कर्नाटक के चुनाव (Karnataka assembly elections in 2018) में प्रधानमंत्री बीदर में अपनी चुनाव रैली कर रहे थे। उन्होंने यह कहा, “जब शहीद भगत सिंह, बटुकेश्वर दत्त और स्वातन्त्र्यवीर सावरकर आज़ादी की लड़ाई में जेल में थे …

Read More »