Home » Tag Archives: भारतीय जन नाट्य संघ

Tag Archives: भारतीय जन नाट्य संघ

अनेक जनांदोलनों को जीवित रखने की ऊर्जा दे गई किसान आंदोलन की जीत

IPTA's national committee meeting

जालंधर में इप्टा की राष्ट्रीय समिति की बैठक सम्पन्न (IPTA’s national committee meeting concluded in Jalandhar) भारतीय जन नाट्य संघ (इप्टा) की राष्ट्रीय समिति की दो दिवसीय बैठक दि. 04-05 दिसम्बर 2021 को देस भगत यादगार हॉल, जालंधर (पंजाब) में सम्पन्न हुई। इस बैठक में प्रमुख रूप से चार मुद्दों पर चर्चा की गई – आज़ादी की पचहत्तरवीं वर्षगाँठ पर …

Read More »

“आवारा” एवं “अनहोनी” फिल्म पर कार्यक्रम का प्रीमियर

Literature, art, music, poetry, story, drama, satire ... and other genres

नई दिल्ली, 02 अगस्त 2021. भारतीय जन नाट्य संघ (इप्टा)- Indian People’s Theater Association (IPTA) द्वारा ख़्वाजा अहमद अब्बास के रचनाकर्म पर केंद्रित ऑनलाइन कार्यक्रमों की श्रृंखला की चौथी कड़ी में “आवारा” एवं “अनहोनी” फिल्म पर कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस कार्यक्रम में थप्पड़, गुलाम, द्रोहकाल, आरक्षण जैसी प्रसिद्ध फिल्मों के लेखक अंजुम रजब अली ख़्वाजा अहमद अब्बास की कहानियों …

Read More »

मार्क्स हों या अंबेडकर कोई भी निर्मम आलोचना से परे नहीं

ambedkar and karl marx

भारत में जनमुक्ति के लिए जरूरी हैं मार्क्स और अंबेडकर, दोनों ही के विचार “Ambedkar’s ideology and interrelationship of the communist movement in India” इंदौर, 26 अप्रैल 2021 : भारतीय जन नाट्य संघ (Indian People’s Theatre Association – इप्टा) की केंद्रीय समिति द्वारा 14 अप्रैल 2021 को हाल में दिवंगत महाराष्ट्र इप्टा के समन्वयक और प्रसिद्ध फिल्म कलाकार इप्टा के …

Read More »

किसान आंदोलनों की परंपरा और किसान आंदोलनों का संक्षिप्त इतिहास

Agriculture Bill will destroy agriculture - Mazdoor Kisan Manch

The tradition of peasant movements and a brief history of peasant movements 26 नवम्बर को किसानों का दिल्ली कूच कार्यक्रम है। वे वहां पहुंच पाते हैं या नहीं यह तो अभी नहीं बताया जा सकेगा, लेकिन तीन नए कृषि कानूनो के असर देश की कृषि व्यवस्था पर पड़ने लगे है। धान की खरीद पर इसका असर साफ दिख रहा है। …

Read More »

“भगत सिंह की विरासत का दावेदार है वामपंथ“–प्रोफ़ेसर चमन लाल

Process of Bhagat Singh becoming Bhagat Singh

“The Left is the claimant of Bhagat Singh’s legacy” – Professor Chaman Lal “देश-दुनिया की ऐतिहासिक और वैज्ञानिक समझ ने बनाया था भगतसिंह को भगत सिंह  – विनीत तिवारी  “भगत सिंह को सब अपनाना चाहते हैं लेकिन भगत सिंह की वैचारिक विरासत का संवाहक एवं दावेदार वामपंथ है। भगत सिंह मसीहा नहीं थे और ना ही मसीहाई में विश्वास रखते थे। भगत सिंह में वर्गीय समझ …

Read More »

मज़दूर-किसान मिलकर बचाएँगे लुटेरों से हिंदुस्तान

D Raja Amarjeet Kaur Sudhakar Reddy

कॉमरेड बर्धन की याद में भारत के मज़दूर आंदोलन का विहंगावलोकन  इंदौर। मज़दूर आंदोलन समाज के विकास के क्रम पर बहुत महत्त्वपूर्ण असर डालता है। हर तरह के शोषण के ख़िलाफ़ मज़दूर आंदोलन को अगुआ दस्ते की भूमिका में रहना चाहिए। जनपक्षीय और इंसानियत के मूल्यों वाली राजनीति और समाजवादी लक्ष्य के लिए मज़दूर आंदोलन को कभी कामयाबी हासिल होती है तो कभी शिकस्त …

Read More »

और अब बॉलीवुड में साम्प्रदायिक ध्रुवीकरण के प्रयास

Sushant Singh Rajput

And now communal polarization efforts in Bollywood सबसे पहले तो यह समझ लेना है कि लोकतंत्र के पहले की साम्प्रदायिकता और बाद की साम्प्रदायिकता (Communalism before democracy and communalism after democracy) अलग-अलग है, भले ही वह हमेशा से ही सत्ता का औजार रही है। पहले जो धर्म के लक्ष्य होते थे, उन्हें प्राप्त करने के तरीकों में भेद होने व …

Read More »

लोक को बांटते तंत्र का प्रतिरोध – लोकतंत्र तानाशाही में तभी बदलता है जब जनता सवाल करना बंद कर देती है

Kannan Gopinathan in Indore

Report of a seminar by Kannan Gopinathan in Indore इंदौर। लोकतंत्र तानाशाही में तब बदलता है जब लोग सरकारों से सवाल पूछना बंद कर देते हैं। सरकार जनता के मुद्दों पर बात नहीं करती एक समुदाय को पीड़ा पहुंचा कर खुश होने वाली पीढ़ी तैयार कर ली गई है। नागरिकता कानून के विरोध में चल रहे आंदोलन ने देश के …

Read More »

विवेक पर हमला : अब देशवासी उठ खड़े हुए हैं देश का संविधान बचाने के लिए

Pansari memorial meetings in Indore

Comrade Govind Pansare memorial meetings in Indore कॉमरेड गोविंद पानसरे की स्मृति में परिचर्चा” Discussion in memory of Comrade Govind Pansare “ There is a similarity in the killing from Gandhi to Gauri Lankesh इंदौर, 21 फरवरी 2020. गांधी से लेकर गौरी लंकेश तक की हत्या में एक समानता है, इन चारों के हत्यारे संकीर्ण विचारधारा के वाहक थे। महात्मा …

Read More »

बेचैनी भरे माहौल में संगीत से ऊर्जस्वित हुए श्रोता

IPTA's musical dialogue with Kuldeep Singh and Jaswinder

कुलदीप सिंह और जसविंदर के साथ इप्टा का संगीत संवाद IPTA’s musical dialogue with Kuldeep Singh and Jaswinder इंदौर से हरनाम सिंह। देश में उथल-पुथल भरे माहौल के बीच 5 फरवरी 2020 को भारतीय जन नाट्य संघ ( इप्टा) की इंदौर इकाई द्वारा आयोजित “संगीत संवाद” स्थानीय प्रेस क्लब सभागृह में संपन्न हुआ। प्रतिष्ठित लता मंगेशकर पुरस्कार प्राप्त करने मुंबई …

Read More »