क्या भारत के विभाजन के लिए ज़िम्मेदार थे नेहरू और कांग्रेस ? जानिए पूरा सच

nehru gandhi patel

Were Nehru and the Congress responsible for the partition of India? Know the whole truth मध्यप्रदेश भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष ने कहा है कि भारत का विभाजन इसलिए हुआ (Why India was partitioned) क्योंकि नेहरूजी समेत कांग्रेस नेता सत्ता का भोग करने को उतावले थे। उनका यह कथन पूरी तरह से बेबुनियाद तो है

भारतीय बुद्धिजीवी वर्ग की कोई सामाजिक जड़ें नहीं हैं और यह आर्थिक राजनैतिक संकट की सबसे बड़ी वजह है

पलाश विश्वास जन्म 18 मई 1958 एम ए अंग्रेजी साहित्य, डीएसबी कालेज नैनीताल, कुमाऊं विश्वविद्यालय दैनिक आवाज, प्रभात खबर, अमर उजाला, जागरण के बाद जनसत्ता में 1991 से 2016 तक सम्पादकीय में सेवारत रहने के उपरांत रिटायर होकर उत्तराखण्ड के उधमसिंह नगर में अपने गांव में बस गए और फिलहाल मासिक साहित्यिक पत्रिका प्रेरणा अंशु के कार्यकारी संपादक। उपन्यास अमेरिका से सावधान कहानी संग्रह- अंडे सेंते लोग, ईश्वर की गलती। सम्पादन- अनसुनी आवाज - मास्टर प्रताप सिंह चाहे तो परिचय में यह भी जोड़ सकते हैं- फीचर फिल्मों वसीयत और इमेजिनरी लाइन के लिए संवाद लेखन मणिपुर डायरी और लालगढ़ डायरी हिन्दी के अलावा अंग्रेजी औऱ बंगला में भी नियमित लेखन अंग्रेजी में विश्वभर के अखबारों में लेख प्रकाशित। 2003 से तीनों भाषाओं में ब्लॉग

आज प्रेरणा अंशु के  जुलाई अंक की तैयारी में था कि पान सिंह बोरा और बबिता उप्रेती आ गए। उनके आने के वक्त हम लोग यानी रूपेश, वीरेश और विकास स्वर्णकार भारत विभाजन के शिकार तराई के बंगालियों पर लिखी जाने वाली किताब (A book to be written on the Bengalis of Terai, victims of

भारत विभाजन के दौरान सीमा पार से शरणार्थी आ रहे थे। कोरोना संकट में देश की एक चौथाई आबादी शरणार्थी बन गई है

How many countries will settle in one country

Refugees were coming from across the border during the partition of India. A quarter of the country’s population has become refugees in the Corona crisis. क्या भारत में कोरोना की स्थिति स्पेन, इटली और अमेरिका से भी भयावह होने जा रही है? क्या भारत में कोरोना संक्रमण का तीसरा स्टेज शुरू हो गया है? Has

एनआरसी भारत विभाजन से अधिक त्रासद परिणामों वाला फैसला होगा।

NRC par ghiri BJP BJP in crisis over NRC

NRC will be a decision with more tragic consequences than partition of India. एनआरसी भारत विभाजन से अधिक त्रासद परिणामों वाला फैसला होगा। एनआरसी (NRC) की कवायद मुसलमानों से द्वेष (Malice to Muslims) के नाम पर शुरू होकर सभी धर्मों के करोड़ों भारतीयों को उसी तरह घायल कर गुजरेगी जैसे कालेधन के नाम पर नोटबन्दी

मोटा भाई, जब धर्म के आधार पर भारत विभाजन हो रहा था, तब हिन्दू महासभा और संघ कहां थे ?

Amit Shah at Kolkata

संसद में अमित शाह ने कांग्रेस को धर्म के आधार पर भारत के विभाजन का दोषी (guilty of partition of India on the basis of religion) बताया। संघ की स्थापना 1925 में (RSS established in 1925) और हिन्दू महासभा की 1905 में हुई (Hindu Mahasabha was established in 1905) । भारत का विभाजन 1947 में