छवि बचाने के लिए बदनाम योगी सरकार का मिशन शक्ति – एआईपीएफ

Women are second class citizens for RSS-BJP - Dinkar

आरएसएस-भाजपा के लिए महिला है दोयम दर्जे की नागरिक – दिनकर महिला सुरक्षा की संस्थाएं बर्बाद कर प्रचार पर बहा रहे करोड़ों- प्रीती 181 व महिला समाख्या कर्मियों ने कहा कि नौकरी करे बहाल, दे बकाया वेतन लखनऊ, 17 अक्टूबर 2020, प्रदेश में महिलाओं पर लगातार हो रही हिंसा, बलात्कार, एसिड अटैक आदि की घटनाओं

संस्थाओं की बर्बादी से कैसे होगी महिला सुरक्षा – प्रीति श्रीवास्तव

daughter

खुद एनसीआरबी की रिपोर्ट के अनुसार उत्तर प्रदेश महिलाओं पर हो रही हिंसा में दूसरे नम्बर पर है। हालत इतनी बुरी है कि महिला और बालिकाओं के अपहरण की पूरे देश में घटी घटनाओं में आधी से ज्यादा घटनाएं अकेले उत्तर प्रदेश में हुई है।

कोई क्यों बनती है आयुषी ? महिला सशक्तिकरण के योगी मॉडल का सच – पूरी योजना का बजट मात्र एक हजार रुपए !

DLC instructs not to remove employees of 181 Asha Jyoti Women's Helpline

Why does someone become an Aayushi? The truth of the Yogi model of women empowerment – the budget of the entire scheme is only one thousand rupees उत्तर प्रदेश में 181 रानी लक्ष्मी बाई आशा ज्योति वूमेन हेल्पलाइन (181 Rani Laxmi Bai Asha Jyoti Women’s Helpline in Uttar Pradesh) के उन्नाव जिले में काम करने