क्या मुग़ल काल भारत की गुलामी का दौर था? – डॉ राम पुनियानी का लेख

Dr. Ram Puniyani - राम पुनियानी

Dr. Ram Puniyani‘s article in Hindi: Was the Mughal period a period of India’s slavery? डॉ राम पुनियानी का लेख हिंदी में क्या मुग़ल काल भारत की गुलामी का दौर था? जब जेम्स स्टुअर्ट मिल– John Stuart Mill (1806–73) ने भारतीय इतिहास (Indian history) को हिन्दू काल, मुस्लिम काल और ब्रिटिश काल में विभाजित किया,

राजनीति व मीडिया जैसे विषय पर पुस्तक लिखने वाली महिलाओं की संख्या नगण्य

rajniti aur media pustak lokarpan leena 24-9-20

बिहार में कभी भी पत्रकारिता का सुनहरा वक्त नहीं रहा। 1970 के दशक में ग्रास रूट की चर्चा पत्रकारिता में नहीं दिखती थी। खबरों के साथ भेदभाव किया जाता था।

महादेवी, मुक्तिबोध और हिंदी की पतनगाथा : लोकतंत्र में अधिकांश लड़ाईयों में आम जनता हारती है क्योंकि

Mahadevi Verma Gajanan Madhav Muktibodh

Mahadevi Verma Death Anniversary | महादेवी वर्मा की पुण्यतिथि | Muktibodh’s death anniversary | मुक्तिबोध की पुण्यतिथि, आज का दिन महादेवी और मुक्तिबोध (Gajanan Madhav Muktibodh) दोनों के नाम है। इन दोनों से हम सबको बहुत कुछ सीखना बाकी है। खासकर धर्मनिरपेक्ष बुद्धिजीवियों (Secular intellectuals) को इनसे बहुत सीखना है। हममें से अधिकांश लोग इनके पाठ

मोदी सरकार की कोयला नीति को करारा झटका, यूएन महासिव ने कहा भारत को अब कोयला में नये निवेश करने की ज़रूरत नहीं

एंटोनियो गुटेरेस संयुक्त राष्ट्र के महासचिव, António Guterres Secretary-General of the United Nations

UN Chief Urges India To Kill Fossil Fuel Subsidies, End Coal Pledges After 2020 नई दिल्ली, 28 अगस्त 2020. भारत में अगस्त महीने का यह आख़िरी हफ़्ता जलवायु परिवर्तन के ख़िलाफ़ छिड़ी जंग (Rust against climate change) की दशा और दिशा निर्धारित करने की नज़र से बेहद महत्वपूर्ण साबित हो रहा है। जहाँ आज, 28

गलत है उत्सर्जन मानकों के अनुपालन के लिए मोहलत माँगना : विशेषज्ञ

Environment and climate change

Extension for emission compliance unjustified : Experts नई दिल्ली, जुलाई 17, 2020: उत्सर्जन मानकों के कार्यान्वयन के लिए मोहलत मांगने पर ऊर्जा क्षेत्र के विशेषज्ञों ने आज, एक वेबिनर के दौरान, एसोसिएशन ऑफ पावर प्रोड्यूसर्स– Association of Power Producers (APP) की कठोर आलोचना की है। कोयला बिजली संयंत्रों के लिए उत्सर्जन मानकों के अनुपालन पर

यह 20वीं बार है जब लल्लू को एक डरी हुई अलोकतान्त्रिक सरकार ने हिरासत में लिया है : प्रियंका गांधी वाड्रा का आलेख

aJAY lALLU PRIYANKA GANDHI

Unbowed and and invincible ‘Lallu’: Priyanka Gandhi Vadra’s article अडिग और अजय ‘लल्लू’ : प्रियंका गांधी वाड्रा का आलेख उन्नाव रेप कांड, जिसमें बलात्कार पीड़िता को बलात्कारियों ने जिंदा जला दिया, ने हम सबको झकझोर दिया था। मैं पीड़ित परिवार से मिलना चाहती थी। ठंड और कुहासे से भरी एक सुबह हम उन्नाव के लिए

कहानी अधूरी छोड़कर जाने वाला नायक इरफान ख़ान

Irrfan Khan

The protagonist, leaving the story incomplete, Irrfan Khan “दुख सबको माँजता है / और चाहे स्वयं सबको मुक्ति देना वो न जाने / किन्तु जिनको माँजता है/ उन्हें ये सीख देता है कि सबको मुक्त रखे” – अज्ञेय नई दिल्ली, 29 अप्रैल 2020. जैविक बीमारी कोरोना नें हमें हमारे दुख में भी अकेला कर दिया

जान खतरे में है और जहान भी… हिन्दुत्व की राजनीति और हिंदुत्व का राजकाज धोखा और फरेब है

Modi in Gamchha

Life is in danger and the world too … The politics of Hindutva and the rule of Hindutva is deception and deceit आज शाम हमारे बड़े भाई और लेखक कस्तूरी लाल तागरा का फोन आया। हाल चाल जानने के बाद लम्बी बातकही हुई। आज सुबह प्रधानमंत्री ने मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कांफ्रेंस की (Prime Minister

म.प्र. में ऑपरेशन कमल जीता, लोकतंत्र हारा! न्यायपालिका की विफलता

Kamalnath

M.P. Operation Kamal wins, democracy loses! आखिरकार, कर्नाटक के बाद मध्य प्रदेश में भी भाजपा का ‘ऑपरेशन कमल’ जीत गया। और लोकतंत्र हार गया। सुप्रीम कोर्ट की शुक्रवार, 20 मार्च को विधानसभा में शक्ति परीक्षण कर बहुमत साबित करने (FLOOR test in assembly to prove majority) के लिए शाम 5 बजे तक की डैडलाइन से