हिमाचल प्रदेश चुनाव : क्या टूट जाएगी लोकतंत्र की लय!

चुनावों की घोषणा के बाद से लोग कई सारे मुद्दों पर मुखर होने लगे. नौकरी-पेशा लोग स्वर्गीय अटलबिहारी वाजपेयी के कार्यकाल में समाप्त की गई पुरानी पेंशन योजना को बहाल करने की बात करने लगे.

Read More

मदमस्त दरबारी पर्यटक राजा, धूमधड़ाके से बज रहा संविधान का बाजा

यह राजा भी वैसा ही है। पूरी तरह निर्वसन और नंगा। अडानी – अम्बानी और अमरीकी ठगों द्वारा तैयार की गयी नयी नयी पोशाकों में वह जितना इतराता है उतना ही अपनी नंगई को उघारता है।

Read More

एक सम्पूर्ण आलोचक प्रोफेसर मैनेजर पांडेय

प्रोफेसर मैनेजर पांडेय ने छात्रों के साथ मित्रता का सम्बन्ध बनाया और सत्ता से सारी ज़िन्दगी दूरी बनाए रखकर लोकतंत्र की सेवा की। उनकी मौत से हम सब आहत हैं।

Read More

मोदीजी पंडिताई नहीं चौकीदारी कीजिए

प्रधानमंत्री जी को यदि चौकीदार के बजाय धर्माचार्य की भूमिका पसंद है तो उनका स्वागत है। वे किसी और को चौकीदारी सौंपकर पूर्णकालिक धर्माचार्य बन सकते हैं।

Read More

कैसा पीएम है यह, जिसे जनता की पीड़ा और तबाही नजर नहीं आती ?

पीएम मोदी नेआम जनता में यथार्थ मत देखो, मोदी देखो, जनता के कष्ट मत देखो, भगवान देखो, यह धारण पैदा करके दिमागी और आर्थिक कंगाली पैदा की है और यही उनकी सबसे बड़ी पूंजी है।

Read More