भारतीय शासन व्यवस्था के कुछ और पहलुओं पर गौर करना भी आवश्यक है

Kaanoon, Samvidhaan Aur Desh

कानून, संविधान और देश | Kaanoon, Samvidhaan Aur Desh | Law, Constitution and country भारतवर्ष विश्व का सबसे बड़ा लोकतंत्र (World’s largest democracy) है और हम गर्व करते हैं कि हमारा संविधान वृहद और परिपूर्ण है, फिर भी हम देखते हैं कि जनहित के नाम पर अक्सर ऐसे कानून बन जाते हैं जो असल में जनविरोधी

जानिए फासिज्म के मायने क्या हैं

Fascism Ahead

Know what is the meaning of fascism | नरेन्द्र मोदी का फासिज्म भारतीय फासिज्म की लाक्षणिक विशेषताएं – Characteristics of Indian Fascism फासिज्म के मायने क्या हैं इस पर भारत में बहुत बहस है, इस बहस में बड़े बड़े दिग्गज उलझे हुए हैं लेकिन आज तक फासिज्म की कोई सर्वमान्य परिभाषा (Common definition of fascism)

मानवाधिकार और लोकतंत्र का मौजूदा दौर में कोई विकल्प नहीं

Human rights

मानवाधिकार और लोकतंत्र – Human Rights and Democracy आज कितने देश हैं जहां मानवाधिकार सुरक्षित हैं (How many countries are there today where human rights are protected?)? कितनी सरकारें उनका पालन कर रही हैं ? मानवाधिकारों पर हमला (Attack on human rights) आज के युग की सबसे बड़ी दुर्घटना है। अमरीका, ब्रिटेन, फ्रांस, जापान, जर्मनी,

ट्रम्प वैश्विक लोकतंत्र को डुबो रहे हैं – सर्वे

Donald Trump

Trump is sinking global democracy खतरे में लोकतंत्र | democracy in danger इस सप्ताह 18 और 19 जून को दुनियाभर में लोकतंत्र के भविष्य पर एक अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन (An international conference on the future of democracy worldwide) आयोजित किया जा रहा है. कोविड 19 के दौर में यह सम्मेलन विडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये किया जाएगा,

म.प्र. में ऑपरेशन कमल जीता, लोकतंत्र हारा! न्यायपालिका की विफलता

Kamalnath

M.P. Operation Kamal wins, democracy loses! आखिरकार, कर्नाटक के बाद मध्य प्रदेश में भी भाजपा का ‘ऑपरेशन कमल’ जीत गया। और लोकतंत्र हार गया। सुप्रीम कोर्ट की शुक्रवार, 20 मार्च को विधानसभा में शक्ति परीक्षण कर बहुमत साबित करने (FLOOR test in assembly to prove majority) के लिए शाम 5 बजे तक की डैडलाइन से

लोक को बांटते तंत्र का प्रतिरोध – लोकतंत्र तानाशाही में तभी बदलता है जब जनता सवाल करना बंद कर देती है

Kannan Gopinathan in Indore

Report of a seminar by Kannan Gopinathan in Indore इंदौर। लोकतंत्र तानाशाही में तब बदलता है जब लोग सरकारों से सवाल पूछना बंद कर देते हैं। सरकार जनता के मुद्दों पर बात नहीं करती एक समुदाय को पीड़ा पहुंचा कर खुश होने वाली पीढ़ी तैयार कर ली गई है। नागरिकता कानून के विरोध में चल

पूरा उत्तर प्रदेश जेलखाना में तब्दील, चलेगा ‘योगी सरकार हटाओ – लोकतंत्र बचाओ’ अभियान

Campaign to save democracy

लखनऊ में हुई बैठक में हुआ निर्णय प्रदेश में राजनीतिक विपक्ष का होना बेहद जरूरी Political opposition is very important in the state लखनऊ 23 जनवरी 2020, ‘योगी सरकार हटाओ-लोकतंत्र बचाओ’ अभियान चलाने का निर्णय आज लखनऊ के गांधी भवन में अखिलेन्द्र प्रताप सिंह, स्वराज अभियान द्वारा बुलाई गई बैठक में लिया गया। आज की