Home » Tag Archives: विपक्ष का कवि धूमिल

Tag Archives: विपक्ष का कवि धूमिल

तुम तो बिलकुल हम जैसे निकले … जिन बातों पर हंसी आती थी, उन पर रोना आ रहा है

debate

आज आर के लक्ष्मण जिंदा होते, तो जरूर ‘वॉलंटरी रिटायरमेंट’ लेते (Had RK Laxman been alive today, he would have taken ‘voluntary retirement’) रवीन्द्र रुक्मिणी पंढरीनाथ सेवा में, आदरणीय मुख्यमंत्री, महाराष्ट्र राज्य महोदय, एक सच्चे हिन्दू के नाते आप से एक अनुरोध कर रहा हूँ। आशा है, आप भी उसी भावना से उस का सम्मान करोगे। यह हिन्दू राष्ट्र है …

Read More »

धूमिल के साहित्य के केंद्र में है लोकतंत्र की आलोचना – प्रो. आशीष त्रिपाठी

Criticism of democracy is at the heart of Dhumil's literature

Criticism of democracy is at the heart of Dhumil’s literature – Prof. Ashish tripathi वाराणसीः उदय प्रताप कॉलेज के हिंदी विभाग और धूमिल शोध संस्थान के संयुक्त तत्वावधान में शिक्षा संकाय के सभागार में जनकवि धूमिल की पुण्यतिथि पर ‘भारतीय लोकतंत्र और विपक्ष का कवि धूमिल’ विषय पर संगोष्ठी का आयोजन किया गया। इस मौके पर काशी हिंदू विश्वविद्यालय के …

Read More »