Home » Tag Archives: साहि‍त्‍य

Tag Archives: साहि‍त्‍य

भारतीय साहि‍त्‍य में कामुकता वि‍मर्श ! सेक्स का विमर्श में रूपान्तरण कैसे हुआ?

opinion debate

Eroticism in Indian literature साहित्य में एक दौर ऐसा भी आया था जब कहा गया कि ‘प्रत्येक बात को कहने दो’। इस नारे के तहत सेक्स के संदर्भ में जितने भी विवरण थे, सबको खुलकर बता दिया गया। यह कार्य लंबे समय से श्रृंगार-साहित्य और रीतिवादी साहित्य करता रहा है। सेक्स का वर्णन अब सभ्य, सुसंस्कृत विवरणों के रूप में …

Read More »