Home » Tag Archives: सिखों के नरसंहार

Tag Archives: सिखों के नरसंहार

मोदी सरकार के ‘भारत रत्न’ नानाजी देशमुख ने 1984 के जनसंहार को उचित ठहराया था, दस्तावेज

nanaji deshmukh justified the 1984 genocide

Modi government’s ‘Bharat Ratna’ Nanaji Deshmukh justified the 1984 genocide, document 1984 के सिख क़त्ले–आम के मुजरिमों की तलाश का 37 साल लम्बा पाखंड! 37-YEAR-LONG MOCKERY OF SEARCHING FOR THE KILLERS OF 1984 SIKH MASSACRE इंसान अभी तक ज़िंदा है, ज़िंदा होने पर शर्मिंदा है।  [सांप्रदायिक हिंसा पर नागरिक समाज की शर्मनाक चुप्पी (Shameful silence of civil society on communal …

Read More »

दंगा भड़काने में राजनीति का जितना हाथ है, उससे कम पत्रकारिता का नहीं, शुक्र है कि अब मैं पत्रकार नहीं हूं

dELHI dANGA pALASH bISWAS

Thankfully I am no longer a journalist 31 अक्टूबर 1984 को श्रीमती इंदिरा गांधी को गोली लगने पर पिताजी पुलिन बाबू अस्पताल में उन्हें देखने पहुंच गए थे। वे नारायणदत्त तिवारी के घर थे। तिवारीजी ही उन्हें अपने साथ अस्पताल से लाये थे। दिल्ली में रहकर उन्होंने भारत विभाजन का जख्म (Wound of partition of India) दोबारा दिलोदिमाग में ताजा …

Read More »