Home » Tag Archives: article on corona virus

Tag Archives: article on corona virus

Article on coronavirus in Hindi. Article on coronavirus pandemic.

Article on coronavirus global pandemic. Article on coronavirus vaccine. Coronavirus News, Articles.

कोरोना वायरस पर लेख. कोरोना वायरस पर निबंध इन हिंदी. कोरोना वायरस पर कविता हिंदी में. कोरोना वायरस पर निबंध 10 लाइन. कोरोना वायरस पर निबंध 2020. कोरोना वायरस पर निबंध 2021.

देशभक्ति, धर्म और संघी सोच : डॉ. राम पुनियानी का लेख

Dr. Ram Puniyani - राम पुनियानी

Dr Ram Puniyani‘s article in Hindi: Patriotism, Religion and Sanghi thinking पिछले कुछ वर्षों से ‘देशद्रोही‘ शब्द का काफी इस्तेमाल हो रहा है. देशद्रोही की परिभाषा (Definition of traitor in Hindi) बहुत स्पष्ट और सीधी-साधी है. जो भी आरएसएस या उसके कुनबे का आलोचक है, वह देशद्रोही है. आरएसएस हिन्दू राष्ट्रवाद की विचारधारा का स्रोत है और जैसे-जैसे वह ताकतवर …

Read More »

अमेरिका का कैपिटल हिल कांड : खतरनाक रूप धारण करती प्रभुवर्ग की सोच!

Donald Trump, Joe Biden

American Capitol Hill Scandal अमेरिका का कैपिटल हिल कांड पर एच. एल. दुसाध का लेख HL Dusadh’s article on US Capitol Hill scandal. अमेरिका में सत्ता हस्तांतरण की प्रक्रिया (Power transfer process in america) के दौरान वहां के संसद के बाहर और भीतर ट्रम्प के समर्थकों ने जो कुछ किया (जिसे अमेरिका का कैपिटल हिल कांड कहा जा रहा है), …

Read More »

पीएम मोदी भाजपा के गोर्बाचोव हैं! लोकतंत्र स्थगित हो गया है

Narendra Modi flute

PM Modi is BJP’s Gorbachov! Democracy has been suspended भाजपा आरएसएस ने संसद पर कब्जा जमा लिया है। यह टिपिकल इलाका दखल की बांग्ला शैली है। इलाका दखल का एक ही उत्तर है जनता के सक्रिय आक्रोशमय एक्शन। बंगाल में जन एक्शन से माकपा साफ हो गई सभी इलाकों से। इंतजार करो बाकी देश में भाजपा के खिलाफ जन कार्रवाई …

Read More »

हवा में चुनाव और जमीन पर भुखमरी ! मीडिया मस्त, जनता पस्त

Bihar assembly election review and news

The election in the air and starvation on the ground! Media hot, battered public अक्तूबर-नवम्बर में बिहार विधान सभा का चुनाव संपन्न हुआ। एक महीना से अधिक हो गया और अब सब शांति है। समय है एक सही समीक्षा का। यहाँ एक कोशिश की गयी है। कई दल और “फ्रंट” (मोर्चा) अपने-अपने लुभावने वादे, घोषणा पत्र, आदि लेकर जनता के …

Read More »

कोरोना का टीका और ट्रंप ! जनतंत्र में मूर्ख और शैतान दक्षिणपंथी नेताओं का एक चरम उदाहरण है ट्रंप

Donald Trump

Corona vaccines and trump! कोरोना के टीके के बारे में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (US President Donald Trump about Corona’s vaccine) ने अपने चुनाव प्रचार में संकेतों में कई प्रकार की बेसिरपैर की बातें की थी। एक बार अमेरिका में ‘आत्मलीनता’ (autism) के बढ़ते हुए रोग के संदर्भ में अवांतर ढंग से उन्होंने कह दिया था कि इसी वजह से …

Read More »

क्या बदलाव की एक नयी इबारत लिख पायेगा किसानों का यह आंदोलन ?

Agriculture Bill will destroy agriculture - Mazdoor Kisan Manch

Will this movement of farmers be able to write a new chapter of change? 2014 में भ्रष्टाचार विरोधी आंदोलन के प्रबल झंझावात के बल पर भाजपा/ एनडीए की सरकार बनी थी। उम्मीदें भी थीं, और गुजरात मॉडल का मायाजाल भी। नरेंद्र मोदी की क्षमता पर ज़रूरत से ज्यादा लोगों को भरोसा भी था। कांग्रेस का दस वर्षीय कार्यकाल खत्म हो …

Read More »

बिहार चुनाव : लोकतंत्र की खूबी की मिसाल

Bihar assembly election review and news

Bihar election: example of the quality of democracy बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Elections) के अंतिम चरण का मतदान पूरा होने पर ज्यादातर एग्जिट पोल में राष्ट्रीय जनता दल (राजग) के नेतृत्व वाले महागठबंधन को सत्तारूढ़ राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) से आगे अथवा कड़ी टक्कर में दिखाया है. महागठबंधन के नेताओं/कार्यकर्ताओं में स्वाभाविक ख़ुशी की लहर है. आरएसएस/भाजपा के फासीवाद …

Read More »

बीच बहस में – कोविड-19 : एक जैविक हथियार, जो वुहान के बीएसएल 4 लैब से लीक हुआ ?

COVID-19 news & analysis

प्रोफेसर फ्रांसिस ए. बॉयल [26 जून, 2020 को “जैविक और रासायनिक हथियारों के उन्मूलन” पर अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन, महाराष्ट्र प्रौद्योगिकी संस्थान, विश्व शांति विश्वविद्यालय (MIT-PUNE) पुणे, भारत में दिया गया वक्तव्य के संपादित अंश] नमस्ते! शांतिकामी जनों की इस उत्कृष्ट सभा में आपने मुझे अपनी बात रखने के लिए आमंत्रित किया इसके लिए बहुत-बहुत धन्यवाद। शांति के इस उद्देश्य को मैंने अपने …

Read More »

बिल गेट्स द्वारा छेड़े गए जीवन खिलाफ वैश्विक युद्ध का मुकाबला हम कैसे करें

Bill Gates

Hindi Translation of “Bill Gates’ Global Agenda and How We Can Resist His War on Life” (written by Vandana Shiva) मार्च 2015 में, बिल गेट्स ने टेड टॉक के दौरान कोरोना वायरस की एक छवि दिखाई  और दर्शकों को बताया कि यह हमारे समय की सबसे बड़ी संभावित तबाही होगी। उसने कहा  कि जीवन के लिए वास्तविक खतरा  “मिसाइल नहीं, रोगाणु हैं”। उस …

Read More »

देश के लिए खतरनाक है सार्वजनिक उपक्रमों की उपेक्षा और उनका निजीकरण

Hastakshep new

Neglect and privatization of PSUs is dangerous for the country सार्वजनिक उपक्रमों की उपेक्षा और निगमीकरण के रास्ते पर देश Country on the path of neglect and corporatisation of PSUs (सार्वजनिक क्षेत्र में व्याप्त भ्रष्टाचार (Corruption in the public sector), लालफीताशाही, नौकरशाही, अफसरशाही, भाई-भतीजावाद, फिजूलखर्ची को रोकने और इस पर नियंत्रण लगाने के बजाए उसका निजीकरण एवं निगमीकरण करना देशहित …

Read More »

मुनाफ़ा, राजनीति और महामारी

COVID-19 news & analysis

Profits, Politics and Epidemics पिछले दस वर्षों से एक आसन्न महामारी के बारे में पर्याप्त गंभीर पूर्वानुमान किया जा रहा था। किन्तु, दुनिया भर के ताकतवर लोगों ने  इस ओर बहुत कम ध्यान दिया। लंबे समय से जिसकी आशंका थी, अंतत: उस रहस्यमयी-रोग ने 2019 के अंत में चीन के हूबेई प्रांत में दस्तक दे ही दी। इसके आगमन की …

Read More »

डॉ. राम पुनियानी का लेख : धर्मपरिवर्तन और भारत में ईसाई-विरोधी हिंसा

Dr. Ram Puniyani - राम पुनियानी

एफसीआरए में प्रस्तावित संशोधनों (FCRA proposed amendments) पर लोकसभा में बोलते हुए भाजपा सांसद सत्यपाल सिंह (BJP MP Satyapal Singh) ने विदेशों से आने वाली सहायता पर प्रतिबंध लगाने का समर्थन किया. इस सिलसिले में उन्होंने पास्टर ग्राहम स्टेन्स (Pastor Graham Stuart Staines) का उल्लेख करते हुए उनके खिलाफ विषवमन किया. उन्होंने दावा किया कि पास्टर ने 30 आदिवासी महिलाओं …

Read More »

मोदी के खून में व्यापार इसलिए फिर से साहूकारी दौर लाने पर आमादा, अपने खेत में ही बंधक बना लिये जाएंगे किसान

Narendra Modi flute

मोदी सरकार बनने के बाद जिस तरह से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने हठधर्मिता दिखाते हुए मनमानी फैसले लिये, उससे न केवल उद्योग धंधे चौपट हो गये हैं बल्कि छोटे-मोटे कारोबारी भी सडक़ पर आ गये हैं। किसान-मजदूर और युवा बदहाली के दौर से गुजर रहे हैं। ऐसे में देश के शीर्षस्थ उद्योगपतियों के रहमोकरम पर चल रही मोदी सरकार (Modi …

Read More »

कोविड -19 और नैदानिक चिकित्सा का अंत, जैसा कि हम जानते हैं : ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय में प्रोफेसर का लेख

COVID-19 news & analysis

सरकारें लगातार विरोधाभासी और भ्रामक नीतियों का निर्माण कर रहीं हैं प्रसिद्ध चिकित्सा विज्ञानी प्रोफेसर कार्ल हेनेगन और टॉम जेफरसन (Renowned medical scientists Professor Carl Heneghan and Tom Jefferson) ने इस टिप्पणी में चिकित्सा शास्त्र के उन बुनियादी सरोकारों (Those basic concerns of medical science) को उठाया है, जिनके तहत मरीज से संवेदनशील और पारदर्शी व्यवहार अच्छे उपचार के लिए …

Read More »

किसान विरोधी हैं तीनों नए कानून, जानिए किसान कृषि विधेयकों से नाखुश क्यों हैं

Bharat Bandh Farmers on the streets throughout Chhattisgarh

All three new laws are anti-farmer हाल ही में, हरियाणा में किसानों के एक आंदोलन पर पुलिस द्वारा बर्बर लाठी चार्ज (Barbaric lathi charge by police on a farmers agitation in Haryana) किया गया है। किसान, सरकार द्वारा पारित तीन नए अध्यादेशों या कानून का विरोध कर रहे थे। किसानों से जुड़े तीनो नए कानून (All three new laws related …

Read More »

लॉकडाउन क्यों गलत नीति है – स्वीडिश महामारीविद् व चिंतक जोहान गिसेके की टिप्पणी

professor johan giesecke coronavirus, johan giesecke coronavirus, professor johan giesecke coronavirus,

स्वीडिश महामारीविद् व  चिंतक जोहान गिसेके की टिप्पणी “एक अदृश्य वैश्विक महामारी” The invisible pandemic by Johan Giesecke in Hindi Why lockdowns are the wrong policy – Swedish expert Prof. Johan Giesecke [स्वीडन के महान महामारीविद् व  चिंतक जोहान गिसेके (Johan Giesecke Coronavirus) और उनके सहयोगी एंडर्स टेगनेल कोरोना-विजय के अप्रतिम नायक के रूप में उभरे हैं। इनकी ही सलाह …

Read More »

कोविड-19 : सांख्यिकी, विज्ञान और वैज्ञानिक चेतना

Novel Coronavirus SARS-CoV-2 Colorized scanning electron micrograph of a cell showing morphological signs of apoptosis, infected with SARS-COV-2 virus particles (green), isolated from a patient sample. Image captured at the NIAID Integrated Research Facility (IRF) in Fort Detrick, Maryland.

प्रमोद रंजन कोविड के भय के अतिरेक ने अब तक एक ख़ास दिशा में विकसित हो रही मानव-सभ्यता और संस्कृति को एक गहरे संकट में धकेल दिया है। जिस दिशा में मानव जाति जा रही थी, उसकी अपनी कमियाँ थीं, लेकिन इस नये संकट ने इन प्रश्नों पर शीघ्र विचार करना आवश्यक बना दिया है कि हम कहाँ जा रहे …

Read More »

इस्लामोफोबिया और साम्प्रदायिकता के वैश्विक प्रभाव

Dr. Ram Puniyani - राम पुनियानी

Hindi Article of Dr Ram Puniyani – Islamophobia Global Fall Out पैगंबर हजरत मोहम्मद के बारे में आपत्तिजनक पोस्टों (Offensive posts about Prophet Hazrat Mohammad) और कुरान की प्रतियां जलाने की प्रतिक्रिया स्वरूप (In response to burning copies of Quran) अभी हाल में अनेक हिंसक घटनाएं हुई हैं. नवीन कुमार, जो बेंगलुरू के एक कांग्रेस विधायक के भतीजे हैं, ने …

Read More »

देश के हाथ में कटोरा थमाने पर उतारू प्रधानमंत्री, गरीबों का सबसे बड़ा दुश्मन है मोदी ?

narendra modi flute

यह मोदी सरकार को उखाड़ फेंकने के संकल्प का समय Prime Minister to take the bowl in the hands of the country. This is the time of resolve to overthrow the Modi government जो लोग रोजी रोटी की समस्या कोरोना काल तथा कोरोना वायरस मरने की वजह पूरी दुनिया में महामारी फैलने की बात कर मोदी सरकार को क्लीन चिट …

Read More »

कोविड-19 : कथित कांस्पीरेसी थ्योरी किसके खिलाफ है?

Demonstrations in Germany protesting against restrictions imposed in COVID's name

समाज कर्मी मेधा पाटकर ने पिछले दिनों जर्मनी में  कोविड के नाम पर लगाए गए प्रतिबंधों के विरोध में हो रहे प्रदर्शनों (Demonstrations in Germany protesting against restrictions imposed in COVID‘s name) को ‘प्रेरणादायक खबर’ (inspirational news) बताया, जिस पर राजनीति-शास्त्री जानकी श्रीनिवासन (Political scientist Janaki Srinivasan) ने उन्हें याद दिलाया कि “यह प्रदर्शन  दक्षिणपंथियों द्वारा आयोजित किया गया था, जो …

Read More »

मूर्खमंडली : कोरोना काल के संकेतों को समझो, अन्यथा पूरी तरह से नष्ट हो जाने के लिए तैयार हो जाओ !

Nirmala Sitharaman and Anurag Thakur

Understand the signs of the Corona era, otherwise, get ready to be completely destroyed! आर्थिक नीतियों के बारे में प्रधानमंत्री के अब तक की तमाम ऐतिहासिक लफ़्फ़ाज़ियों (All the historical rhetoric of the Prime Minister about economic policies so far) के परे वित्तमंत्री और रिज़र्व बैंक के गवर्नर के नृत्यों की जुगलजोड़ी सचमुच अब अश्लीलता की हद तक असहनीय होती …

Read More »