राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने धर्म के आधार पर देश का विभाजन कभी नहीं स्वीकारा : भारत रत्न प्रणब मुखर्जी

Pranab Mukherjee

Former President Pranab Mukherjee spoke on Mahatma Gandhi नई दिल्ली, 10 फरवरी 2020. पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी (Former President Pranab Mukherjee) ने कहा है कि महात्मा गांधी अपने पूरे सार्वजनिक जीवन में हर क्षण देश की एकता के लिए लड़ते रहे और उन्होंने इस बात को कभी नहीं स्वीकारा कि देश धर्म के आधार पर