जुल्म और दमन के खिलाफ इंसाफ और लोकतंत्र की बेखौफ लड़ाई की प्रेरणा बने रहेंगे चितरंजन सिंह !

Chitranjan Singh

आदरणीय चितरंजन भाई से अभी 10 अक्टूबर को टाउनहाल बलिया में बहुत दिनों बाद मुलाकात हुई थी। PUCL के साथियों द्वारा जय प्रकाश जी की जयंती पर आयोजित कार्यक्रम का अवसर था। उन्हें बेहद अस्वस्थ देखकर धक्का लगा था। वहां उपस्थित बलिया के तमाम जनपक्षधर नेताओं-कार्यकर्ताओं, गणमान्य नागरिकों ने उनके स्वास्थ्य के प्रति चिंताकुल भाव

जाने-माने नागरिक अधिकार कार्यकर्ता चितरंजन सिंह के निधन पर माले ने शोक प्रकट किया

Chitranjan singh

The CPI (ML) mourns the death of noted civil rights activist Chittaranjan Singh. अन्त्येष्टि शनिवार को बलिया के पैतृक गांव में होगी लखनऊ, 26 जून। भाकपा (माले) की राज्य इकाई ने जाने-माने नागरिक अधिकार कार्यकर्ता चितरंजन सिंह के निधन पर गहरा शोक प्रकट किया है। लंबी बीमारी के बाद लगभग 67 वर्ष की उम्र में

अकेले ही जनता की आवाज बने रहते थे चितरंजन सिंह उनका जाना समाज का बड़ा नुकसान

Chitranjan Singh

लखनऊ, 26 जून 2020. उत्तर प्रदेश में आईपीएफ के अध्यक्ष रहे और प्रसिद्ध मानवाधिकार कार्यकर्ता चितरंजन सिंह का निधन हो गया है। चितरंजन सिंह के निधन पर अनेक संगठनों ने अपनी शोक संवेदना व्यक्त की है। आईपीएफ नेता दिनकर कपूर ने कहा कि उनका निधन मानवाधिकारों के हनन के इस दौर में समाज की अपूरणीय