देश के लिए खतरनाक है सार्वजनिक उपक्रमों की उपेक्षा और उनका निजीकरण

Hastakshep new

इस समय सरकार को कृषि और एमएसएमई सेक्टर पर ही पूरा ध्यान फोकस करना चाहिए। इससे बाजार एवं अर्थव्यवस्था में तरलता, खपत एवं मांग बढ़ेगी, तभी अर्थव्यवस्था पटरी पर लौट सकेगी।