जानिए बच्चों पर घरेलू हिंसा का प्रभाव क्या होता है और उनमें क्या विकृतियां पैदा हो सकती हैं

Effects of domestic violence on children

बच्चों पर घरेलू हिंसा का प्रभाव | Effects of domestic violence on children घर में हिंसा के संपर्क में आने वाले कई बच्चे भी शारीरिक शोषण के शिकार होते हैं। जो बच्चे घरेलू हिंसा के गवाह होते हैं या जो खुद दुर्व्यवहार के शिकार होते हैं, वे लंबे समय तक शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य समस्याओं

जानिए घरेलू हिंसा या दुरुपयोग के संकेत क्या हैं, और इस स्थिति में क्या करें

Signs of domestic violence or abuse

Know what are the signs of domestic violence or abuse, and what to do in this situation घरेलू हिंसा से बचाव |घरेलू हिंसा होते हुए देखने पर आप कैसे मदद कर सकते हैं |घरेलू हिंसा क्या है,घरेलू हिंसा का अर्थ क्या है | घरेलू हिंसा का अर्थ परिभाषा एवं विभिन्न प्रकार. घरेलू हिंसा या दुरुपयोग

संस्थाओं की बर्बादी से कैसे होगी महिला सुरक्षा – प्रीति श्रीवास्तव

daughter

खुद एनसीआरबी की रिपोर्ट के अनुसार उत्तर प्रदेश महिलाओं पर हो रही हिंसा में दूसरे नम्बर पर है। हालत इतनी बुरी है कि महिला और बालिकाओं के अपहरण की पूरे देश में घटी घटनाओं में आधी से ज्यादा घटनाएं अकेले उत्तर प्रदेश में हुई है।

महिला समाख्या बंद करना महिला विरोधी – दिनकर कपूर

Closure of Mahila Samakhya Programme is anti-women - Dinkar Kapoor

Closure of Mahila Samakhya Programme is anti-women – Dinkar Kapoor वर्कर्स फ्रंट ने मुख्यमंत्री को पत्र भेज 20 माह के बकाए वेतन की उठाई मांग लखनऊ 24 अगस्त 2020, पिछले 31 वर्षों से महिलाओं के  कल्याण के लिए (For the welfare of women) जारी महिला समाख्या को चालू करने और महिलाओं के बकाए वेतन के

योगी राज में महिलाओं की कत्लगाह का बना उत्तर प्रदेश –  दारापुरी

ऑल इंडिया पीपुल्स फ्रंट के राष्ट्रीय प्रवक्ता और अवकाशप्राप्त आईपीएस एस आर दारापुरी (National spokesperson of All India People’s Front and retired IPS SR Darapuri)

आइपीएफ ने महिला राज्यपाल को पत्र भेज महिलाओं की सुरक्षा की उठाई मांग 181 वूमेन हेल्पलाइन व महिला समाख्या को चलाकर की जाए महिला सुरक्षा Uttar Pradesh made of women’s slaughter in Yogi Raj – Darapuri लखनऊ 17 अगस्त 2020, मुख्यमंत्री के क्षेत्र गोरखपुर में 17 साल की लड़की के साथ सामूहिक दुष्कर्म (17-year-old girl

खेल-खेल में चर्चा : स्वास्थ्य, लैंगिक समानता और मानवाधिकार

Grassroot soccer in Hindi

Sports Discussion: Health, Gender Equality and Human Rights Know all about Grassroot soccer in Hindi | हिंदी में ग्रासरूट सॉकर के बारे में सब जानिए यह तो सर्वविदित है कि शारीरिक व्यायाम और खेलकूद हमारे मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य के लिए अत्यंत आवश्यक हैं, परन्तु क्या खेल-खेल में युवाओं की यौन और प्रजनन स्वास्थ्य-सम्बन्धी समस्याओं

महिलाओं को बेमौत मार डालेगा आरएसएस का सरकार चलाने का मॉडल, खुद घरेलू हिंसा का शिकार हो गई 181 आशा ज्योति वूमेन हेल्पलाइन

DLC instructs not to remove employees of 181 Asha Jyoti Women's Helpline

महिलाओं को जन राजनीति को बनाने में लेनी होगी भूमिका | Helpline for Women in Distress हाल ही में उत्तर प्रदेश सरकार ने दो शासनादेश किए हैं। एक आंगनबाड़ियों को 62 वर्ष में सेवा से पृथक कर देने और आंगनबाड़ियों को सामान्य काम में भी चूक होने पर सेवा से पृथक कर देने का आदेश और

कोई क्यों बनती है आयुषी ? महिला सशक्तिकरण के योगी मॉडल का सच – पूरी योजना का बजट मात्र एक हजार रुपए !

DLC instructs not to remove employees of 181 Asha Jyoti Women's Helpline

Why does someone become an Aayushi? The truth of the Yogi model of women empowerment – the budget of the entire scheme is only one thousand rupees उत्तर प्रदेश में 181 रानी लक्ष्मी बाई आशा ज्योति वूमेन हेल्पलाइन (181 Rani Laxmi Bai Asha Jyoti Women’s Helpline in Uttar Pradesh) के उन्नाव जिले में काम करने

181 वूमेन हेल्प लाइन वर्कर्स आयुषी सिंह की आत्महत्या सरकार की संवेदनहीनता का परिणाम, योगी मॉडल एक विफल मॉडल है – वर्कर्स फ्रंट

DLC instructs not to remove employees of 181 Asha Jyoti Women's Helpline

वर्कर्स फ्रंट के पत्र पर अपर श्रमायुक्त लखनऊ ने दिए आयुषी सिंह को 8 लाख 15 हजार 4 सौ का मुआवजा देने व एक सप्ताह में सभी कर्मियों को वेतन भुगतान का आदेश UP: 181 Women Helpline Worker Dies by Suicide; 351 Workers not Paid for 11 Months The Uttar Pradesh government’s 181 helpline for

अभी केन्द्र सरकार पहले ही डूबती अर्थव्यवस्था के नाम पर चंदा बटोर रही है, फिर राज्य सरकारें नई नौकरियों के नाम पर नंगा दौड़ाएंगी

Migrants On The Road

अभी केन्द्र सरकार पहले ही डूबती अर्थव्यवस्था (Sinking economy) के नाम पर चंदा बटोर रही है, वो दिन दूर नहीं जब राज्य सरकारें नई नौकरियों के नाम पर नंगा दौड़ाएंगी जैसे कि हम सब जानते हैं लॉकडाउन का चरण (Lockdown phase) लगभग खत्म हो चला है और लोगों को ज़रूरी कामों के रियायत दी जा