बहुजनवाद के पहले सिद्धांतकार : महात्मा फुले

Jyotirao Phule बहुजनवाद के पहले सिद्धांतकार : महात्मा फुले

First theorists of Bahujanism: Mahatma Phule ‘जिन्होंने हिन्दू समाज की छोटी जातियों को उच्च वर्णों के प्रति उनकी गुलामी के सम्बन्ध में जागृत किया और जिन्होंने विदेशी शासन से मुक्ति पाने से भी सामाजिक लोकतंत्र (की स्थापना) अधिक महत्वपूर्ण है, इस सिद्धांत का प्रतिपादन किया, उस आधुनिक भारत के महानतम शूद्र महात्मा फुले को सादर