कन्हैया का बिना नाम लिए मोदी पर हमला – ये फेंकू ही नहीं, फट्टू भी है

Kanhaiya Kumar

नई दिल्ली, 20 जून 2020. भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य और जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार (Former President of JNU Students’ Union; Author- ‘From Bihar to Tihar’) ने बिना नाम लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला है। कन्हैया कुमार ने अपने सत्यापित ट्विटर एकाउन्ट पर लिखा,

मोदी के घुसपैठ की बात नकारने के बाद चीन हुआ और चौड़ा, ठोका गलवान घाटी पर दावा

Lijian Zhao, Spokesman & DDG, Information Department, Foreign Ministry, China

नई दिल्ली, 20 जून 2020. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा सर्वदलीय बैठक में यह कहने के बाद कि भारतीय जमीन पर कोई विदेशी घुसपैठ नहीं है, चीन ने एक बार फिर केंद्र शासित लद्दाख के गलवान घाटी पर अपना दावा किया है (China has once again laid claim to the Galwan Valley in the Union Territory

पूर्व सैन्य अधिकारियों ने कहा – मोदी ने समर्पण कर दिया है और कह रहे हैं कि कुछ हुआ ही नहीं है। भगवान बचाए !

Modi Xi Jhoola

भारत चीन सीमा संघर्ष : एक दुर्भाग्यपूर्ण घटनाक्रम India-China border conflict: an unfortunate development पिछली 6 से 16 जून के बीच चीन के साथ उत्तर-पश्चिम की सीमा पर गलवान नदी की घाटी में दोनों देशों की सेनाओं के बीच हुई झड़प (Clash between Indian and Chinese forces) और उस पर भारत में सर्वदलीय बैठक में

जस्टिस काटजू ने मोदी से पूछा – क्या गलवान घाटी पर हम चीन के अवैध कब्जे को स्वीकार करने जा रहे हैं ?

Justice Markandey Katju Narendra Modi

Justice Katju asked Modi – are we going to accept the illegal occupation of China over Galwan Valley? नई दिल्ली, 20 जून 2020. सर्वोच्च न्यायालय के अवकाशप्राप्त न्यायाधीश जस्टिस मार्कंडेय काटजू ने गलवान घाटी में चीन के अवैध कब्जे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा सर्वदलीय बैठक में दिए गए वक्तव्य पर तीखे सवाल किए हैं,