इस रविवार “हमने तो बस्ती बोई थी, जंगल कैसे उग आया” बताएंगे लक्ष्मी शंकर वाजपेयी

Laxmi Shankar Bajpai Saahityik Kalrav

चराग़ों से कहो महफूज़ रखें अपनी-अपनी लौ उलझना है उन्हें कुछ सरफिरी पागल हवाओं से नई दिल्ली, 01 जुलाई 2020. हस्तक्षेप डॉट कॉम के यूट्यूब चैनल (Youtube channel of hastakshep.com) के साहित्य अनुभाग “साहित्यिक कलरव” पर जारी श्रंखला में इस रविवार ख्यातिप्राप्त साहित्यकार लक्ष्मी शंकर वाजपेयी (Laxmi Shankar Bajpai) अपना कविता पाठ करेंगे। यह जानकारी