Home » Tag Archives: lockdown

Tag Archives: lockdown

कोरोना मामलों में वृद्धि के चलते लॉकडाउन की अवधि बढ़ी

COVID-19 news & analysis

The lockdown period extended in Germany due to an increase in Corona cases नई दिल्ली, 05 मार्च 2021. जर्मनी में लॉकडाउन (Lockdown in germany) के बावजूद पिछले कुछ हफ्तों से कोविड-19 महामारी (COVID-19 Epidemic) के नए मामलों में फिर से वृद्धि देखने को मिल रही है। यहां एक दिन में कोरोना के 11,912 मामले दर्ज हुए हैं। रॉबर्ट कोच इंस्टीट्यूट …

Read More »

प्रदूषण में कमी के बावजूद लॉकडाउन के दौरान दिल्ली की वायु गुणवत्ता रही सामान्य स्तर से अधिक : टेरी

Assessment of air quality during lockdowns in Delhi

लॉकडाउन के दौरान बॉयोमास के जलने और उद्योगों जैसे क्षेत्रीय स्रोतों ने दिल्ली के वायु प्रदूषण में अपना योगदान दिया : रिपोर्ट ब्लूमबर्ग फिलॉन्थ्रीपीज के सहयोग से तैयार की गई है रिपोर्ट नई दिल्ली, 02 फरवरी, 2021: लॉकडाउन के दौरान दिल्ली में CPCB के 32 मॉनिटरिंग स्टेशनों के सांख्यिकीय विश्लेषण बताते हैं कि साल 2020 में पिछले साल के मुक़ाबले …

Read More »

घूमता हुआ आईना News of the week | इस रात की सुबह नहीं !

घूमता हुआ आईना

घूमता हुआ आईना | News of the week | इस रात की सुबह नहीं ! Kisan rally | farmers protest | hastakshep | हस्तक्षेप घूमता हुआ आईना : देशबन्धु के समूह संपादक राजीव रंजन श्रीवास्तव का साप्ताहिक स्तंभ बीते एक साल में देश और दुनिया में काफी कुछ बदल गया है। एक अनजान से वायरस ने पूरी दुनिया को नाक-मुंह …

Read More »

ऑस्ट्रिया में मंगलवार से लगेगा दूसरा लॉकडाउन

COVID-19 news & analysis

The second lockdown will be held in Austria from Tuesday नई दिल्ली, 1 नवंबर 2020. ऑस्ट्रियाई चांसलर सेबेस्टियन कुर्ज (Sebastian Kurz – Chancellor of Austria / Bundeskanzler der Republik Österreich // Obmann der) ने घोषणा की है कि कोविड-19 महामारी को फैलने से रोकने के लिए मंगलवार से दूसरा लॉकडाउन शुरू होगा जो महीने के अंत तक जारी रहेगा। कुर्ज …

Read More »

कृषि विरोधी कानूनों के खिलाफ छत्तीसगढ़ में हुए कई स्थानों पर हुए प्रदर्शन, मोदी सरकार का हुआ पुतला दहन

Demonstrations held in many places in Chhattisgarh against anti-agricultural laws

Demonstrations held in many places in Chhattisgarh against anti-agricultural laws किसान संगठनों का दावा : सफल रहा छत्तीसगढ़ बंद रायपुर, 25 सितंबर 2020. अनियंत्रित ढंग से बढ़ती कोरोना महामारी के प्रकोप और लॉकडाउन के बावजूद छत्तीसगढ़ में अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति के आह्वान पर मोदी सरकार द्वारा पारित किसान विरोधी कानूनों के खिलाफ और न्यूनतम समर्थन मूल्य की …

Read More »

कृषि विधेयक : नोटबन्दी, जीएसटी, तालाबंदी के बाद अब यह चौथा मास्टरस्ट्रोक, जो अर्थव्यवस्था की रही सही कमर तोड़ेगा

More than 50 bighas of wheat crop burnt to ashes of 36 farmers of village Parsa Hussain of Dumariyaganj area

2 farm bills clear Rajya Sabha hurdle amid protests रविवार को राज्यसभा में विपक्ष के हंगामे (Opposition uproar in Rajya Sabha) के बीच कृषि विधेयक ध्वनिमत से पारित हुए। इसके साथ ही मोदी सरकार द्वारा कृषि क्षेत्र में तथाकथित नए सुधार के कार्यक्रमों को अमलीजामा पहनाने के लिए लाए गए कृषक उपज व्यापार एवं वाणिज्य (संवर्धन एवं सुविधा) विधेयक 2020 …

Read More »

वैक्सीन की तरह संदेह भरी मजदूरों की जिंदगी

Lockdown, migration and environment

Life of laborers with suspicion like vaccine कोरोना से निजात पाने के लिए सबको एक अदद वैक्सीन की दरकार है। दुनिया को लग रहा है कि इससे वो सुरक्षित हो जाएगी। हांलाकि इसे पहले वैज्ञानिक स्तर पर जांचा परखा जाता है। फिर उसे जनता को उपलब्ध कराया जाता है। जिसमें कम समय के साथ लंबा वक्त भी लग सकता है। …

Read More »

आपदा को मुनाफ़े में बदल कर कमा रही है ग़रीब विरोधी सरकार : राहुल

Rahul Gandhi at Bharat Bachao Rally

नई दिल्ली, 25 जुलाई 2020. कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने लॉकडाउन में श्रमिक ट्रेनों द्वारा 428 करोड़ रुपये कमाई करने वाली एक रिपोर्ट (A report of Rs 428 crore earned by labor trains in lockdown) का हवाला देते हुए केंद्र की मोदी सरकार और रेल मंत्रालय पर निशाना साधा है. बता दें 24 मार्च से अविवेकपूर्ण तरीके से …

Read More »

महिलाओं के लिए कोई नया नहीं है लॉकडाउन

#CoronavirusLockdown, #21daylockdown , coronavirus lockdown, coronavirus lockdown india news, coronavirus lockdown india news in Hindi, #कोरोनोवायरसलॉकडाउन, # 21दिनलॉकडाउन, कोरोनावायरस लॉकडाउन, कोरोनावायरस लॉकडाउन भारत समाचार, कोरोनावायरस लॉकडाउन भारत समाचार हिंदी में, भारत समाचार हिंदी में,

महिला और लॉकडाउन | Women and Lockdown महिलाओं के लिए लॉकडाउन कोई नया लॉकडाउन नहीं है इससे पहले भी बचपन से न जाने कितने लॉकडाउनों को देखा और महसूस किया…! जैसे ही किसी बच्ची का जन्म होता है उसके साथ ही लॉकडाउन का जन्म होता है कुछ लोगों के द्वारा ऐसी सामाजिक बंदिशे बनाई गई…. जैसे-जैसे उनकी उम्र बढ़ती है …

Read More »

बनारस बदल गया है, लोग भी बदल गए हैं

Keshav Suman

Benares has changed, people have also changed आज बनारस के वरिष्ठ कवि केशव शरण जी का फोन आया। प्रेरणा अंशु के जून अंक में लॉकडाउन पर उनकी कविताएं (Keshav Sharan’s poems on lockdown) छपी हैं। लेखकीय प्रतियां मिलते ही फोन किया। फिर लम्बी बात हुई। उनसे पता चला कि केडी यादव अब बनारस में नहीं हैं। वे कहां गए केशवजी …

Read More »

कोरोना काल में परदे के पीछे के कलाकारों का बुरा हाल

#CoronavirusLockdown, #21daylockdown , coronavirus lockdown, coronavirus lockdown india news, coronavirus lockdown india news in Hindi, #कोरोनोवायरसलॉकडाउन, # 21दिनलॉकडाउन, कोरोनावायरस लॉकडाउन, कोरोनावायरस लॉकडाउन भारत समाचार, कोरोनावायरस लॉकडाउन भारत समाचार हिंदी में, भारत समाचार हिंदी में,

आधुनिक परिवेश में सांस्कृतिक मूल्यों को सहेजने का यदि कोई कार्य कर रहा है तो वह कलाकार ही हैं। मनुष्य को मनुष्यता का पाठ पढ़ाने वाली शिक्षा, जिसमें त्याग, बलिदान और अनुशासन के आदर्श निहित हैं, यदि कहीं संरक्षित है तो वह मात्र लोक कलाओं (Folk arts) में ही है। लेकिन कोरोना महामारी के कारण देश भर में कला क्षेत्र …

Read More »

जानिए मन की बात में आज क्या कहा प्रधानमंत्री मोदी ने

Modi in Gamchha

मन की बात 2.0’ की 12वीं कड़ी में प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के सम्बोधन का मूल पाठ Text of Prime Minister Shri Narendra Modi’s address in 12th episode of Mann Ki Baat 2.0 मेरे प्यारे देशवासियों, नमस्कार। कोरोना के प्रभाव से हमारी ‘मन की बात’ भी अछूती नहीं रही है। जब मैंने पिछली बार आपसे ‘मन की बात’ की थी, …

Read More »

कोरोना से निपटने का सरकार का कोई इरादा नहीं, यह योजनाबद्ध नरसंहार है

Lockdown in RaipurLockdown in Raipur

The government has no intention of dealing with Corona, it is a planned massacre कोरोना से निपटने का सरकार का कोई इरादा नहीं है। यह योजनाबद्ध नरसंहार (Planned massacre…) है। हम पहले ही लिख चुके हैं। अब पांचवें चरण के लिए लॉकडाउन (Lockdown for fifth stage) 30 जून तक बढ़ा दिया गया। लॉकडाउन की हालत यह है कि उत्तराखण्ड जब …

Read More »

‘स्पीक अप इंडिया’ : कांग्रेस के बड़े नेताओं ने ही बैठा दिया कांग्रेस का भट्टा

congress

कोविड-19 के आगमन पर प्रधान सेवक के कहे ‘ कि आपदा में भी अवसर हो सकते हैं’, को कांग्रेस द्वारा मूलरूप से क्रियान्वित करने के प्रयास कल 28 मई को ‘स्पीक अप इंडिया‘ अभियान (Congress’ ‘Speak Up India‘ campaign,) के तहत किया गया। इसमें अचरज नहीं करना चाहिये कि जो प्रश्न 2019 के लोकसभा चुनाव के समय राहुल गांधी ने …

Read More »

लॉकडाउन : आत्मनिर्भर भारत में मजदूरों की आत्मनिर्भरता

Migrants On The Road

लॉकडाउन में मजदूरों की आर्थिक स्थिति पर ग्राउंड रिपोर्ट | Ground report on the economic status of workers in lockdown Lockdown: Self-reliance of laborers in self-sufficient India दिल्ली, मुंबई, जैसे महानगरों में हर साल बिहार, उत्तर-प्रदेश, झारखंड, उड़ीसा, मध्य प्रदेश से लाखों की संख्या में प्रवासी मजदूर आत्मनिर्भर बनने के लिए आते है वे दिन-रात कमा कर अपने बच्चों के भविष्य …

Read More »

राहुल गांधी ने बता दिया, सरकार क्यों नहीं कर रही देशवासियों की मदद, कहा लॉकडाउन का उद्देश्य हुआ फेल

Rahul Gandhi at Bharat Bachao Rally

Rahul Gandhi told why the government is not helping the countrymen, said the purpose of the lockdown failed नई दिल्ली, 26 मई : पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष और केरल के वायनाड से लोकसभा सदस्य राहुल गांधी (Rahul Gandhi, former Congress president and Lok Sabha member from Wayanad, Kerala) ने वीडियो प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मोदी सरकार की कोरोना वायरस और लॉकडाउन को …

Read More »

भारत माता संकट में है और मौज में हैं उसकी जय के नारे लगाने वाले! क्या सांस थमने का इन्तजार कर रही है सरकार?

narendra modi flute

क्या वास्तव में इससे बुरा कुछ हो सकता है? प्रेरणा अंशु के सम्पादक वीरेश कुमार सिंह का पठनीय आवश्यक लेख In the Corona era, the alliance of the leader-officer-capitalist is in front of everyone in its worst form. ‘हमारे मोडो को इत्तो मारो है इत्तो मारो है, जे खटिया पे पड़ो है। खून बह रहो है। बा हिल-डुल न पा …

Read More »

कोविड-19 से अधिक खतरनाक है भूख से महामारी

Starvation eradication

Hunger epidemic is more dangerous than COVID-19 वर्ल्ड बैंक के ग्रुप प्रेसिडेंट डेविड मेल्पर्स (World Bank Group President David Malpass) के अनुसार कोविड-19 महामारी की तुलना में अधिक लोग भूख से मरेंगें. उनके अनुसार कोविड-19 के असर और दुनियाभर में लॉकडाउन के असर (Worldwide lockdown effects) से पिछले तीन वर्षीं में गरीबी उन्मूलन (poor elimination) के लिए किये गए सभी …

Read More »

ये सवाल मुझे परेशान करते हैं और आपको?

पलाश विश्वास जन्म 18 मई 1958 एम ए अंग्रेजी साहित्य, डीएसबी कालेज नैनीताल, कुमाऊं विश्वविद्यालय दैनिक आवाज, प्रभात खबर, अमर उजाला, जागरण के बाद जनसत्ता में 1991 से 2016 तक सम्पादकीय में सेवारत रहने के उपरांत रिटायर होकर उत्तराखण्ड के उधमसिंह नगर में अपने गांव में बस गए और फिलहाल मासिक साहित्यिक पत्रिका प्रेरणा अंशु के कार्यकारी संपादक। उपन्यास अमेरिका से सावधान कहानी संग्रह- अंडे सेंते लोग, ईश्वर की गलती। सम्पादन- अनसुनी आवाज - मास्टर प्रताप सिंह चाहे तो परिचय में यह भी जोड़ सकते हैं- फीचर फिल्मों वसीयत और इमेजिनरी लाइन के लिए संवाद लेखन मणिपुर डायरी और लालगढ़ डायरी हिन्दी के अलावा अंग्रेजी औऱ बंगला में भी नियमित लेखन अंग्रेजी में विश्वभर के अखबारों में लेख प्रकाशित। 2003 से तीनों भाषाओं में ब्लॉग

These questions bother me and you? बंगाल और ओडिशा के हर जिले में आता जाता रहा हूँ। वैसे भी ओडिशा के बालेश्वर जिले के बारीपदा में मेरा ननिहाल है। बंगाल में 27 साल रहा तो झारखंड में चार साल। झारखण्ड में भी गांव-गांव, जंगल-जंगल जाना होता था। खासकर कोयला खान इलाकों में। झारखण्ड और बंगाल की कोयला खानों से मैं …

Read More »

मुजफ्फरनगर के खतौली में ज़रूरतमन्दों की मदद के लिए आगे आए सामाजिक लोग

Social people came forward to help the needy in Khatauli in Muzaffarnagar

Social people came forward to help the needy in Khatauli in Muzaffarnagar खतौली, (मुज़फ्फरनगर) 19 मई 2020 : खतौली क्षेत्र में युवाओं का ग्रुप पीपुल्स एलायन्स और अन्य सामाजिक लोग कोविड-19 के कारण हुए लॉकडाउन के इस नाज़ुक वक्त में गरीब, मज़दूर और जरूरतमंदों को लगातार 50 दिनों से राहत, खाद्य सामग्री और अन्य आवश्यक वस्तुओं का वितरण करने का …

Read More »

कोरोना से मरने वाले तीन लाख लोगों के चेहरे को पहचानें। अपना चेहरा देखना न भूलें

पलाश विश्वास जन्म 18 मई 1958 एम ए अंग्रेजी साहित्य, डीएसबी कालेज नैनीताल, कुमाऊं विश्वविद्यालय दैनिक आवाज, प्रभात खबर, अमर उजाला, जागरण के बाद जनसत्ता में 1991 से 2016 तक सम्पादकीय में सेवारत रहने के उपरांत रिटायर होकर उत्तराखण्ड के उधमसिंह नगर में अपने गांव में बस गए और फिलहाल मासिक साहित्यिक पत्रिका प्रेरणा अंशु के कार्यकारी संपादक। उपन्यास अमेरिका से सावधान कहानी संग्रह- अंडे सेंते लोग, ईश्वर की गलती। सम्पादन- अनसुनी आवाज - मास्टर प्रताप सिंह चाहे तो परिचय में यह भी जोड़ सकते हैं- फीचर फिल्मों वसीयत और इमेजिनरी लाइन के लिए संवाद लेखन मणिपुर डायरी और लालगढ़ डायरी हिन्दी के अलावा अंग्रेजी औऱ बंगला में भी नियमित लेखन अंग्रेजी में विश्वभर के अखबारों में लेख प्रकाशित। 2003 से तीनों भाषाओं में ब्लॉग

कोरोना से हो रही मौतें कुछ भी नही है जो यह नई नरसंहारी ग्लोबल आर्डर भूख, बेरोजगारी के जरिये करने वाला है। कोरोना से मरने वाले तीन लाख लोगों के चेहरे को पहचानें। अपना चेहरा देखना न भूलें। करोड़ों औऱ मारे जाएंगे। पलाश विश्वास न्यूयार्क से डॉ पार्थ बनर्जी का ताजा अपडेट। Lockdown = Loss of jobs (of the poor). …

Read More »