अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण के लिए भूमि पूजन पर क्या बोला पाकिस्तान

Imran Khan with Narendra Modi 1

What did Pakistan say on Ram temple land worship in Ayodhya Prime Minister Narendra Modi performed bhoomi pujan for construction of Ram temple in Ayodhya on 5 August प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीते 5 अगस्त को अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण के लिए भूमि पूजन किया और मंदिर की आधार शिला रखी. हालाँकि इस

मोदी सरकार ने संविधान और लोकतंत्र के लिए बड़ा खतरा पैदा कर दिया है, अब तो देश की संप्रभुता तक खतरे में है – आईपीएफ

PM Modi Speech On Coronavirus

Modi government has posed a big threat to the Constitution and democracy, now even the sovereignty of the country is in danger – IPF लखनऊ, 05 अगस्त 2020. आल इंडिया पीपुल्स फ्रंट ने कहा है कि मोदी सरकार ने संविधान और लोकतंत्र के लिए बड़ा खतरा पैदा कर दिया है. अब तो देश की संप्रभुता

मज़दूरों ने मोदी सरकार के झूठतंत्र को उखाड़ फेंका है. गोदी मीडिया की औकात बता दी है.

Lockdown, migration and environment

The workers have overthrown the lies of the Modi government. भारत का बुद्धिजीवी वर्ग 12 करोड़ मज़दूरों के सत्याग्रह को राजनैतिक बदलाव की ठोस पहल नहीं मानते वो इसे मज़दूरों की लाचारी भर मानते हैं भारत का बुद्धिजीवी मूर्छित अवस्था में है. वो अपनी चिर निद्रा में सोते सोते सत्ता की आलोचना को ही अपना

प्रवासी मजदूरों के खिलाफ मोदी सरकार का युद्ध : असंवेदनशीलता को कृपा मनवाने का अहंकार

PM Modi Speech On Coronavirus

हरेक आपदा कोई न कोई सबक जरूर देती है। कोविड-19 महामारी का एक बड़ा सबक (A big lesson of the COVID-19 epidemic) यह भी है कि मजदूरों और खासतौर पर शहरों के प्रवासी मजदूरों के प्रति मोदी सरकार की संवेदनहीनता (Modi government’s insensitivity towards migrant laborers) का मुकाबला सिर्फ और सिर्फ एक चीज कर सकती

औरंगाबाद की घटना मोदी सरकार पर एक बदनुमा दाग, इतिहास इस त्रासदी के लिए कभी मोदी सरकार को माफ नहीं करेगा : मरकाम

Mohan Markam State president Chhattisgarh Congress

अपने घर गांव लौटने के लिए बेबस मजदूर भूख प्यास थकान और करोना का शिकार बनने के लिये मजबूर किये गये नोटबंदी की तरह ही लॉक डाउन भी बिना किसी योजना के मोदी सरकार ने किया नोटबंदी की तरह लॉक डाउन में भी समाज के सबसे कमजोर और गरीब वर्गों के लोग शिकार बने रायपुर,

मजदूरों की मौत के लिए मोदी सरकार जिम्मेदार – दिनकर कपूर

दिनकर कपूर Dinkar Kapoor अध्यक्ष, वर्कर्स फ्रंट

औरंगाबाद और लखनऊ में हुई मौतों पर वर्कर्स फ्रंट ने व्यक्त की संवेदना Workers Front expressed condolences on the deaths in Aurangabad and Lucknow 50 लाख मुआवजा दे सरकार लखनऊ 8 मई 2020. आज सुबह औरंगाबाद में ट्रेन से छत्तीसगढ अपने घर लौट रहे 14 प्रवासी श्रमिकों की ट्रेन से कटकर और साईकिल से लखनऊ

आपदा के समय देश की संपदा को कारपोरेट घरानों के हाथ बेच रही है मोदी सरकार, इसे बेनकाब करो

Modi in Gamchha

At the time of disaster, Modi government is selling the wealth of the country to the corporate houses, expose it अब तो प्रमाण सामने है मोदी सरकार के पास पैसे नहीं हैं। मध्यवर्ग के नौकरीपेशा लोगों के जमाधन और कमाई से यह सरकार चल रही है। मध्यवर्ग के सरकारी नौकरीपेशा लोगों ,खासकर केन्द्र सरकार के

निजीकरण करने पर आमादा मोदी क्या कोरोना काल के बाद सरकारी क्षेत्र की ओर लौटेंगे : मोदी के समक्ष कहाँ है बाधा! 

PM Modi Speech On Coronavirus

Will Modi return to the government sector after the Corona period: where is the obstacle before Modi! गत 14 अप्रैल को सरकार समर्थित देश के सबसे बड़े अखबार में छपी एक खबर ने मोदी सरकार की विनिवेश नीतियों (Disinvestment policies of Modi government) से त्रस्त लोगों को सुखद आश्चर्य में डाल दिया। ‘एयर इंडिया के

माकपा ने पूछा – कोरोना या राम वन गमन पथ : क्या है सरकार की प्राथमिकता?

CPIM

The CPI (M) has asked the state government which of the issues between the corona virus and Ram Van Gaman Path is in the priority of the government? रायपुर, 19 मार्च 2020. मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी-CPI (M) ने कोरोना वायरस से लड़ने में राज्य सरकार के कदमों को अपर्याप्त बताते हुए कहा है कि आज जब

कांग्रेस की बादल को नसीहत, सीएए को लेकर मोदी सरकार पर बरसने के बजाय बहू से इस्तीफा दिलवाएं

Prakash Singh Badal

Congress advises Badal, instead of shouting on Modi government on CAA, get resignation from daughter-in-law चंडीगढ़ 02 मार्च 2020. कांग्रेस ने शिरोमणि अकाली दल (शिअद) के संरक्षक व पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल को नसीहत दी है कि वह नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) को लेकर नरेंद्र मोदी सरकार पर बरसने के बजाय अपनी पुत्रवधु हरसिमरत