अजीब प्रधानमंत्री हैं, मार-काट की ही भाषा बोलते हैं, खामियाजा देश भुगतता है

Ish Mishra on Lock down

Weird is the Prime Minister, he speaks the language of violence, the country suffers brunt दुष्यंत कुमार का एक शेर है, मत कहो आकाश में कुहरा घना है यह किसी की व्यक्तिगत आलोचना है। इस मुल्क में मध्यवर्ग का ऐसा कुत्सित अंधभक्त तबका पैदा हो गया है जो सरकार की हर सही-गलत नीति-काम का महिमामंडन