Home » Tag Archives: Pramod Ranjan

Tag Archives: Pramod Ranjan

जर्मन बुद्धिजीवियों ने पसंद किया प्रमोद रंजन का हस्तक्षेप पर प्रकाशित लेख

Pramod ranjan प्रमोद रंजन की दिलचस्पी सबाल्टर्न अध्ययन, आधुनिकता के विकास और ज्ञान के दर्शन में रही है। ‘साहित्येतिहास का बहुजन पक्ष’, ‘बहुजन साहित्य की प्रस्तावना’ और ‘शिमला-डायरी’ उनकी प्रमुख पुस्तकें हैं। उनके द्वारा संपादित दक्षिण भारत के सामाजिक-क्रांतिकारी ईवी रामासामी पेरियार के प्रतिनिधि विचारों पर केंद्रित तीन पुस्तकों का प्रकाशन हाल ही में हुआ है। रंजन इन दिनों असम विश्वविद्यालय के रवींद्रनाथ टैगोर स्कूल ऑफ लैंग्वेज एंड कल्चरल स्टडीज में प्राध्यापक हैं।

German intellectuals appreciate Pramod Ranjan’s article published on Hastakshep हस्तक्षेप में प्रकाशित प्रमोद रंजन के लेख “कोविड 19, विज्ञान और बुद्धिजीवियों की ज़िम्मेदारी” का जर्मन अनुवाद  “रूबिकॉन” ने प्रकाशित किया है। (यहां देखें) रूबिकॉन एक प्रतिष्ठित वेबपोर्टल है, जो पिछले कुछ वर्षों में जर्मनी में सत्ता प्रतिष्ठानों के खिलाफ एक मुखर बौद्धिक-दार्शनिक आवाज के रूप में उभरा है। इस वेबसाइट ने कोरोना …

Read More »

बहुत बड़ा है खेल, कोरोना वायरस का इस्तेमाल कुछ वैश्विक ताकतें दुनिया को अपनी मुठ्ठी में करने के लिए कर रही हैं !

COVID-19 News, कोविड-19 समाचार, COVID-19 News in Hindi, covid-19 की ताज़ा खबरे हिन्दी में, Covid 19 India की ताज़ा ख़बर, Latest coronavirus News in Hindi, covid 19 india News in Hindi,

अनीता एम देसाई का मेल निम्नांकित मेल मुझे मेरे एक लेख की प्रतिक्रिया में मिला है। अनीता एम देसाई कौन हैं, यह मुझे नहीं पता। इस मेल में वायरस के बारे प्रचारित कई तथ्यों पर सवाल उठाए गए हैं। हालांकि ये बातें पहले भी कुछ लोगों ने कहीं हैं, लेकिन देसाई जी ने इसे इस मेल में अधिक विस्तार और …

Read More »