Home » Tag Archives: research

Tag Archives: research

भारतीय शोधकर्ताओं ने विकसित किया गुणवत्ता वाला पारदर्शी सिरेमिक

Science news

Researchers from International Advanced Research Center for Powder Metallurgy and New Materials (ARCI), Gurugram have developed magnesium aluminate spinel ceramics through colloidal processing. पारदर्शी सिरेमिक क्या है? कोलाइडल प्रोसेसिंग तकनीक क्या है? What is transparent ceramic? What is colloidal processing technology? नई दिल्ली, 18 सितंबर, 2021: भारतीय शोधकर्ताओं को एक पारदर्शी सिरेमिक (transparent ceramic) विकसित करने में सफलता मिली है। यह खोज …

Read More »

भारतीय वैज्ञानिकों ने विकसित की मधुमक्खी के छत्ते की अनुकृति आधारित ध्वनि-अवशोषक तकनीक

ध्वनि प्रदूषण से होती हैं स्वास्थ्य संबंधी परेशानियां | मधुमक्खी के छत्ते का प्रयोग Developed sound-absorbing technology based on imitation of the beehive. Health problems caused by noise pollution नई दिल्ली, 14 सितंबर, 2021: अनेक प्रकार की स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों के पीछे ध्वनि प्रदूषण को जिम्मेदार कारक के रूप में देखा जा रहा है। वातावरण में बढ़ते शोर के विरुद्ध …

Read More »

ड्रैगन फ्रूट को शोधकर्ताओं ने बताया सुपर-फूड

ड्रैगन फ्रूट की खेती कहाँ होती है ?  ड्रैगन फ्रूट का स्वाद कैसा होता है ? ड्रैगन फ्रूट कौन से देश में पाया जाता है? Researchers call dragon fruit a super-food नई दिल्ली, 13 सितंबर, 2021 : कैक्टस कुल को आमतौर पर कांटेदार पौधों के लिए जाना जाता है। ऐसे में, यह जानकर हैरानी हो सकती है कि कैक्टस परिवार …

Read More »

आईआईटी गुवहाटी ने विकसित किया उन्नत ऊर्जा-भंडारण उपकरणों के लिए हाइड्रोजेल आधारित इलेक्ट्रोड्स

Science news

IIT Guwahati develops hydrogel based electrodes for advanced energy-storage devices नई दिल्ली, 26 अगस्त, 2021: एनर्जी स्टोर करने वाली डिवाइसों की क्षमताएं बढ़ाने की दिशा में भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) गुवाहाटी के शोधार्थियों को एक बड़ी सफलता मिली है। शोधकर्ताओं ने हाइड्रोजेल आधारित इलेक्ट्रोड्स विकसित किए हैं जो ऊर्जा संचित करने वाले उपकरणों की कुशलता बढ़ाने में उपयोगी हो सकते …

Read More »

निःसंतान दम्पत्तियों के लिए खुशियों की सौगात लाएगी यह नई खोज

Women's Health

Assisted reproductive technology IVF for childless couples in India | How IVF is bringing joy to thousands of childless couples? आईवीएफ की सफलता दर को और बेहतर बनाएगी नई तकनीक नई दिल्ली, 13 अगस्त, 2021. निःसंतान दम्पत्तियों के लिए सहायक प्रजनन तकनीक आईवीएफ (Assisted Reproductive Technology IVF for Childless Couples) उम्मीद की एक किरण है, लेकिन इस तकनीक की सफलता …

Read More »

आरंभिक गर्भाशय कैंसर की पहचान के लिए नया पॉइंट-ऑफ-केयर उपकरण

New point-of-care tool for early uterine cancer detection सबसे जानलेवा बीमारियों में से एक है कैंसर नई दिल्ली, 02 अगस्त: कैंसर सबसे जानलेवा बीमारियों में से एक है। इसके उपचार की दिशा में प्रगति तो हुई है, परंतु इसके लिए बीमारी की शुरुआती अवस्था में ही उसका पता चल जाना आवश्यक है। तमाम प्रयासों के बावजूद महिलाओं में गर्भाशय के …

Read More »

भूमिगत तेल और गैस की आसान निकासी के लिए विकसित हुए विशेष पॉलिमर

 Special polymers developed for easy extraction of underground oil and gas नई दिल्ली, 30 जुलाई, 2021: भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) खड़गपुर (Indian Institute of Technology Kharagpur) के शोधकर्ताओं की टीम ने “स्पेशलिटी फ्रिक्शन रेड्यूसर” पॉलिमर विकसित किए हैं, जो भूमिगत कुओं से तेल निकालने में मदद कर सकते हैं। इस शोध से जुड़े प्रमुख शोधकर्ता प्रोफेसर संदीप डी कुलकर्णी ने …

Read More »

विकसित हुई फेफड़ों के कैंसर पर सटीक प्रहार की तकनीक

वैज्ञानिकों ने मिलकर एक ऐसा उपकरण विकसित किया है जिसकी मदद से फेफड़ों के कैंसर से जूझ रहे मरीजों के उपचार में मदद मिल सकती है। इस उपकरण को ‘3डी रोबोटिक मोशन फैंटम’ नाम दिया गया है। इसकें माध्यम से फेफड़ो के कैंसर के मरीजों को सटीक और कम मात्रा में भी अधिक प्रभावी रेडिएशन थेरेपी दी जा सकती सकेगी। …

Read More »

कोरोना की वैक्सीन ‘जायकोव-डी’ परीक्षण के तीसरे चरण में

अगर ‘जायकोव-डी’ सभी परीक्षणों में पास हो जाती है और इसे देश में इस्तेमाल की मंजूरी मिलती है, तो यह कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए दुनिया का पहला डीएनए आधारित टीका और देश में उपलब्ध चौथा टीका होगा।  Corona’s vaccine ‘Zycov-D’ in the third phase of trial नई दिल्ली, 23 जुलाई, 2021: कोरोना संक्रमण की संभावित तीसरी लहर (Possible …

Read More »

आंत के बैक्टीरिया का व्यवहार समझाने के लिए नया शोध

research on health

New research to explain behavior of gut bacteria नई दिल्ली, 20 जुलाई, 2021: एक नए अध्ययन से ई-कोलाई और कीमोटैक्सिस जैसे जटिल पहलुओं को समझने की संभावनाएं और बेहतर हुई हैं। अभी तक यह समझना मुश्किल रहा है कि मानवीय आंत में उपस्थित जीवाणु प्रवासी (बैक्टीरियल रेजिडेंस) यानी ई-कोलाई कैसे आगे बढ़ता है या रासायनिक क्रियाओं के प्रति उसकी क्या …

Read More »

शोधकर्ताओं ने विकसित किया सिंथेटिक सौंदर्य प्रसाधन का ऑर्गेनिक विकल्प

Researchers develop organic alternative to synthetic cosmetics ऑर्गेनिक सौंदर्य प्रसाधन | organic cosmetics नई दिल्ली, 15 जुलाई 2021: चेन्नई के वैज्ञानिकों को पराबैंगनी किरणों के सापेक्ष प्रतिरोध उत्पन्न करने वाले एक ऐसे तत्व को तलाशने में सफलता मिली है जिसका उपयोग एंटी एजिंग कॉस्मेटिक सामग्री (anti aging cosmetic ingredients), महंगे सौंदर्य प्रसाधनों और स्किन केयर उत्पादों के निर्माण (skin care …

Read More »

वैज्ञानिकों ने चिह्नित किया दुर्लभ और सबसे चमकदार सुपरनोवा

  Scientists discover extremely rare superluminous supernova (SN-2020 ANK) नई दिल्ली, 12 जुलाई, 2021: अंतरिक्ष के रहस्य सुलझाने में जुटे वैज्ञानिकों को हाल में एक बड़ी सफलता प्राप्त हुई है। उन्हें एक अत्यंत दुर्लभ सुपरल्यूमिनस सुपरनोवा (एसएन-2020 एएनके) खोज निकाला है। यह सुपरनोवा बेहद शक्तिशाली चुंबकीय क्षेत्र के साथ दूसरे न्यूट्रॉन तारे से मिल रही ऊर्जा से चमक रहा है। …

Read More »

विकसित हुआ अस्थि-ऊतकों के पुनर्निर्माण में सहायक नया बायोमैटेरियल

research on health

New biomaterial helpful in rebuilding bone tissue developed नई दिल्ली, 08 जुलाई,2021: एक नए शोध से हड्डी के ऊतकों के पुनर्निर्माण (टिशू रीजेनरेशन – Tissue regeneration) का मार्ग प्रशस्त हो सकता है। पुणे स्थित सावित्रीबाई फुले विश्वविद्यालय में संकाय फेलो डॉ. गीतांजलि तोमर (Dr. Geetanjali Tomar, Faculty Fellow at Savitribai Phule University, Pune) का यह शोध रीजेनरेटिव थेरेपीज (regenerative therapies …

Read More »

वैज्ञानिकों ने विकसित की आँख के फंगल इन्फेक्शन की उपचार की नई विधि

  Scientists devise new strategy for combating fungal eye infection क्या है फंगल केराटॉसिस  नई दिल्ली, 02 जुलाई 2021: भारत की आबादी का एक बहुत बड़ा हिस्सा अभी भी कृषि कार्यों में संलग्न है। ये कृषि कार्य न केवल अधिक परिश्रम की मांग करते हैं, बल्कि इन कार्यों के दौरान कई किस्म के जोखिम भी होते हैं। इन्हीं जोखिमों में …

Read More »

वैज्ञानिकों ने विकसित की टगबोट्स में ईंधन की खपत कम करने की तकनीक

Scientists develop technology to reduce fuel consumption in tugboats सड़क परिवहन का एक प्रभावी विकल्प बनकर उभर रहा है घरेलू समुद्री परिवहन नई दिल्ली, 24 जून 2021: घरेलू समुद्री परिवहन मार्ग सड़क परिवहन का एक प्रभावी विकल्प बनकर उभर रहा है। बढ़ते समुदी यातायात को देखते हुए और समुद्री व्यापार को सुविधाजनक बनाने के लिए अनेक समुद्र-पत्तनों के विकास और …

Read More »

शोधकर्ताओं ने विकसित की पानी से हाइड्रोजन ईंधन बनाने की किफायती विधि

Science news

Researchers develop an economical method of making hydrogen fuel from water ग्रीन-हाउस गैसों के उत्सर्जन पर अंकुश लगाने की आवश्यकता से हुआ आविष्कार नई दिल्ली, 10 फरवरी : ऊर्जा की उत्तरोत्तर बढ़ती वैश्विक माँग और ग्रीन-हाउस गैसों के उत्सर्जन पर अंकुश लगाने की आवश्यकता (Need to curb emissions of greenhouse gases) ने शोधकर्ताओं को विकल्प के रूप में स्वच्छ और …

Read More »

डीआरडीओ और सेना ने बनायी भारत की पहली स्वदेशी 9-एमएम मशीन पिस्तौल

Science news

DRDO and Army make India’s first indigenous 9-mm machine pistol जानिए भारत की पहली स्वदेशी 9-एमएम मशीन पिस्तौल के बारे में नई दिल्ली, 15 जनवरी :रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ– DRDO) तथा भारतीय सेना ने मिलकर भारत की पहली स्वदेशी 9-एमएम मशीन पिस्तौल (India’s first indigenous 9-mm machine pistol) विकसित की है। इस पिस्तौल का डिजाइन और विकास भारतीय …

Read More »

भारत के इस क्षेत्र में 17 महीनों में आ चुके हैं 16 हजार से अधिक भूकंप

earthquakes, rainfall, monsoon,वर्षा, मानसून, भू-विज्ञान की खबरें, भूकंप, अनुसंधान, Geology news, earthquake, research, western coastal region, भूगर्भ समाचार, Geology news in Hindi,

पश्चिमी घाट में कम तीव्रता के भूकंप की घटनाओं का कारण मानसून नई दिल्ली, 04 मार्च (इंडिया साइंस वायर): भारतीय भू-वैज्ञानिकों ने एक ताजा अध्ययन में देश के पश्चिमी घाट में लंबे समय से हो रही कम तीव्रता की भूकंप की घटनाओं के कारणों (Causes of low intensity earthquake events) का पता लगाया है। वैज्ञानिकों का कहना है कि देश …

Read More »