Home » Tag Archives: t

Tag Archives: t

भविष्य से आँख भी मिला पाएँ, इसलिए उठिए और बोलिए

opinion

कुछ बोलिए  संतुलन न बिगड़ जाए कुछ बोलिए अंधेरा न बढ़ता रहे कुछ बोलिए भविष्य न हो मलिन कुछ बोलिए देश की आहुति न हो कुछ बोलिए कीट के काटने पर तो चुप थे सर्पदंश पर तो कुछ बोलिए जहर, मार दे देह को लकवा उससे पहले ही कुछ बोलिए वर्तमान, डरावना भूत न बने इसलिए कुछ तो बोलिए भविष्य …

Read More »