बलि के बकरे और पवित्र गाय : कोविड काल में मीडिया, पुलिस और तबलीगी जमात

Dr. Ram Puniyani

Sacrificial Goats and Holy Cows: Media, Police and Tabligi Jamaat in the Covid Era सरकार द्वारा किए जा रहे तमाम प्रयासों के बावजूद देश में कोरोना का प्रकोप बढ़ता ही जा रहा है (Corona outbreak is increasing in the country). पूरे देश में इस रोग के प्रसार और उसके कारण लगाए गए प्रतिबंधों से एक

कोरोना के कहर के बीच : तब्लीगी जमात से सिर पर ठीकरा फोड़ने की कवायद

डॉ. राम पुनियानी (Dr. Ram Puniyani) लेखक आईआईटी, मुंबई में पढ़ाते थे और सन्  2007 के नेशनल कम्यूनल हार्मोनी एवार्ड से सम्मानित हैं

ARTICLE IN HINDI BY DR RAM PUNIYANI – CORONA AND Tablighi Jamaat   इस समय भारत पूरी तरह से बंद है. सरकार, जनता और सामाजिक व अन्य संगठन, कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए भरसक प्रयास कर रहे हैं. देश में अब तक लगभग 7,500 लोग इस जानलेवा बीमारी से ग्रस्त हो चुके हैं