Home » Latest » क्या है Pegasus और इससे कैसे बच सकते हैं आप? यहां जानिए इस स्पाइवेयर की पूरी एबीसीडी
cyber security tutorial

क्या है Pegasus और इससे कैसे बच सकते हैं आप? यहां जानिए इस स्पाइवेयर की पूरी एबीसीडी

Technology : What is Pegasus spyware how can you avoid it Know full details here

पेगासस स्पाइवेयर (Pegasus Spyware) ने भारत में मचाया विवाद; जानिए किस तरीके से पेगासस स्पाइवेयर से सुरक्षित रखें अपना स्मार्ट फ़ोन

पेगासस स्पाइवेयर क्या है What is pegasus spyware in Hindi ?

न्यूज़ हेल्पलाइन – मुंबई, 21 जुलाई, 2021. पेगासस स्पाइवेयर (Pegasus spyware) इन दिनों एक बार फिर पूरे देश में चर्चा का विषय बना हुआ है। इससे पहले वर्ष 2019 में इसके बारे में सुना गया था, तब कई व्हाट्सऐप उपभोक्ताओं ने पेगासस द्वारा उनके फोन के हैक होने की शिकायत की थी। इनमें कई एक्टिविस्ट और पत्रकार शामिल थे।

पेगासस प्रोजेक्ट क्या है

हाल ही में फ्रांस की संस्था फॉरबिडन स्टोरीज़ (Forbidden Stories) और एमनेस्टी इंटरनेशनल (Amnesty international) ने मिलकर रहस्योद्घाटन किया है कि इजरायली कंपनी NSO के स्पाइवेयर पेगासस के जरिए दुनिया भर की सरकारें पत्रकारों, कानूनविदों, नेताओं और यहां तक कि नेताओं के रिश्तेदारों की जासूसी करा रही हैं। इस जांच को पेगासस प्रोजेक्टनाम दिया गया है। निगरानी वाली लिस्ट में ५० हजार लोगों के नाम हैं. जो पहली लिस्ट पत्रकारों की निकली है जिसमें ४० भारतीय नाम हैं।

Pegasus spyware : पेगासस स्पाइवेयर क्या है, यह कैसे काम करता है? जानिए डिटेल में.

पेगासस स्पाइवेयर किस ग्रुप ने तैयार किया है – पेगासस (Pegasus) एक spyware जिसे इजराइली ग्रुप NSO ने तैयार किया है। साल 2016 में ये सुर्खियों में आया था, जब एक अरब एक्टिविस्ट के पास संदेह भरा मैसेज आया था। पहले ये माना जा रहा था कि पेगासस (Pegasus) सिर्फ आईफोन यूजर्स को ही अपना निशाना बनाता है लेकिन रिसर्च में खुलासा हुआ कि ये सिर्फ आईफोन यूजर्स को ही नहीं बल्कि एंड्रॉयड यूजर्स को भी अपना शिकार बनाता है।

पेगासस स्पाइवेयर आपके फोन को कैसे प्रभावित करता है – पेगासस (Pegasus) आपके फोन को हैक करके आपके व्हाट्सऐप की एंड-टू-एंड इंक्रिप्टेड चैट्स को एक्सेस कर सकता है। साथ ही आपके मैसेज और कॉल्स को भी ट्रैक कर सकता है। इसके अलावा ये आपकी ऐप की एक्टिविटी को भी ट्रैक कर सकता है। यही नहीं ये आपकी लोकेशन, डेटा और वीडियो कैमरे में भी सेंध लगा सकता है।

पेगासस स्पाइवेयर से कैसे बचाव करें (How to protect against Pegasus spyware)– अगर आप इस स्पाईवेयर से बचना चाहते हैं तो आपको कई बातों का ध्यान रखना होगा। कई कंपनियां अपने ऐप्स के लिए हाई लेवल सिक्योरिटी देती हैं और समय-समय पर उन्हें अपडेट भी करती रहती हैं ऐसे में आपको उन ऐप्स का अपडेटेड वर्जन की यूज करना चाहिए, इससे आपके फोन हैक होने की आशंका थोड़ी कम हो जाती हैं। थोड़े-थोड़े दिनों में अपने सोशल मीडिया अकाउंट्स की सिक्योरिटी को चेक करते रहना चाहिए। अगर आपके पास किसी भी तरीके से कोई लिंक आता है जिस पर आपको शक हो तो ऐसे लिंक को फोन में से फौरन डिलीट कर देना चाहिए और भूलकर भी इस पर क्लिक नहीं करना चाहिए।

पाठकों से अपील

“हस्तक्षेप” जन सुनवाई का मंच है जहां मेहनतकश अवाम की हर चीख दर्ज करनी है। जहां मानवाधिकार और नागरिक अधिकार के मुद्दे हैं तो प्रकृति, पर्यावरण, मौसम और जलवायु के मुद्दे भी हैं। ये यात्रा जारी रहे इसके लिए मदद करें। 9312873760 नंबर पर पेटीएम करें या नीचे दिए लिंक पर क्लिक करके ऑनलाइन भुगतान करें

 

हमारे बारे में उपाध्याय अमलेन्दु

Check Also

news

एमएसपी कानून बनवाकर ही स्थगित हो आंदोलन

Movement should be postponed only after making MSP law मजदूर किसान मंच ने संयुक्त किसान …

Leave a Reply