राष्ट्रपिता के प्रपौत्र ने नए सीडीएस जनरल बिपिन रावत को बताया राष्ट्र के नौकर हो, सरकार के नहीं

The great grandson of the father of the nation told the new CDS General Bipin Rawat that he is the servant of the nation and not the government.

नई दिल्ली, 02 जनवरी 2020। अपने पूरे कार्यकाल के दौरान लगातार अपनी बयानबाजियों के लिए विवादों में रहे पूर्व थल सेना अध्यक्ष जनरल बिपिन रावत देश के नए सीडीएस नियुक्त हुए हैं, लेकिन पदभार संभालते ही वह फिर विवादों में हैं और अबकी बार राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के प्रपौत्र तुषार गांधी ने नए सीडीएस को बताया है कि वे राष्ट्र के नौकर हैं, सरकार के नहीं।

तुषार गांधी ने ट्वीट किया,

“नई सीडीएस ने सशस्त्र बलों को ‘ऑफिस में सरकार के लिए काम करने’ का आदेश दिया है। थैंक गॉड फील्ड मार्शल मानेकशॉ ने तत्कालीन सरकार के अधीन कार्यालय में  होने से इनकार कर दिया।“

एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा,

“नए चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ ने सशस्त्र बलों से कहा है कि वे कार्यालय में सरकार के लिए काम करें। ‘उन्हें यह याद दिलाने की जरूरत है कि वह रक्षा बलों के सर्वोच्च कमांडर राष्ट्रपति के सेवा करते हैं और बदले में राष्ट्र की, सरकार की नहीं।“

 

Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
उपाध्याय अमलेन्दु:
Related Post
Recent Posts
Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
Donations