राष्ट्रपिता के प्रपौत्र ने भाजपा की याददाश्त दुरुस्त की

The great-grandson of the father of the nation, Tushar Gandhi corrects the memory of the BJP

नई दिल्ली, 24 दिसंबर 2019. देश भर में जारी नागरिकता संशोधन अधिनियम विरोधी आंदोलनों (Anti-citizenship amendment act movements) के बीच जब सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का नाम लेकर भ्रम फैलाने की कोशिश की तो राष्ट्रपिता के प्रपौत्र तुषार गांधी (Great-grandson of the father of the nation, Tushar Gandhi) ने भाजपा की याददाश्त दुरुस्त की।

भाजपा के सत्यापित ट्विटर हैंडल (BJP’s verified Twitter handle) से ट्वीट किया गया कि,

“26 दिसंबर 1947 को, महात्मा गांधी ने कहा था कि पाकिस्तान में रहने वाले सिख और हिंदू हमेशा भारत वापस आ सकते हैं और अगर वे वापस आते हैं तो उनकी देखभाल करना भारतीय सरकार की जिम्मेदारी है।

पीएम मोदी ने पूरा किया वादा: श्री @JPNadda #CAAJanJagran’.“

तुषार गांधी ने इस ट्वीट का उत्तर देते हुए ट्वीट किया कि,

“लेकिन बापू ने यह भी कहा कि भारत लौटने की इच्छा रखने वाले मुसलमानों का खुले हाथों से स्वागत किया जाएगा। बस अपनी चयनात्मक स्मृति को ठीक करने के लिए।“

Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
उपाध्याय अमलेन्दु:
Related Post
Leave a Comment
Recent Posts
Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
Donations